Hrithik Roshan talk about dance - ऋतिक रोशन बोले- डांस में बेपरवाही जरूरी है DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ऋतिक रोशन बोले- डांस में बेपरवाही जरूरी है

साल 2000 में रिलीज फिल्म ‘कहो न प्यार है’ के वक्त से ही अभिनेता ऋतिक रोशन को उनके जबरदस्त डांस और अभिनय क्षमता के लिए जाना जाता रहा है। उनके डांस का जिक्र छिड़ते ही ‘धूम 2’(2006), जिंदगी न मिलेगी दोबारा (2011) और ‘बैंग बैंग (2014) जैसी फिल्मों के दृश्य याद आ जाते हैं। पर इस मामले में ऋतिक की पसंदीदा फिल्में कुछ अलग ही हैं। 

हिट भोजपुरी गीत ‘लॉलीपॉप लागेलू’ पर डांस कर चुके ऋतिक बताते हैं, ‘मुझे फिल्म ‘सुपर 30’ में अपना डांस बहुत पसंद आया।’ आगे वह कहते हैं, ‘बहुत कम लोग जानते हैं कि मैंने डांस का सबसे ज्यादा लुत्फ अपनी चार फिल्मों में उठाया है- कोई मिल गया (2003), जोधा अकबर (2008), काबिल (2017) और इस साल की सुपर 30।’ बताते चलें कि गणितज्ञ आनंद कुमार की जिंदगी पर आधारित ऋतिक की मुख्य भूमिका वाली फिल्म ‘सुपर 30’ ने भारत में करीब 150 करोड़ रुपए की कमाई की थी। 

जब ऋतिक से पूछा गया कि उनकी इस लिस्ट में ‘धूम 2’ और ‘कहो न प्यार है’ जैसी फिल्मों का शामिल न होना बेहद हैरत भरा है और ऐसा क्यों है, तो उनका जवाब था, ‘इस किस्म की फिल्मों में अमूमन एक  खास तरह के डांस की जरूरत होती है, जिसमें जरा भी गलती करने या इधर-उधर जाने की गुंजाइश नहीं होती। पर असल डांस वो होता है, जो आत्मा से सीधा निकले। डांस का अर्थ खुद को एकदम आजाद छोड़ देने से है। जब आपको जरा भी परवाह न हो कि आपके हाथ कहां जा रहे हैं और पैर कहां जा रहे हैं।’

‘विशुद्ध डांस’ को लेकर ऋतिक की अपनी  परिभाषा है। वह कहते हैं, ‘अगर आपने कभी बारात में नाचते लोगों को देखा है, तो आपको यह एहसास होगा कि उन्हें देखना हम सभी को अच्छा लगता है। हम हमेशा सोचते हैं, क्या कर रहा है ये आदमी! पागल है, पर कुछ मस्त कर रहा है! आप मुस्कराते हुए उन लोगों को डांस करते हुए देखते हैं, क्योंकि वे एकदम बेपरवाह होकर नाच रहे होते हैं। यही बात हमें आकर्षित करती है। असल डांस यही है।’

साल 2010 की फिल्म ‘गुजारिश’ के एक्टर ऋतिक मानते हैं कि ज्यादातर बॉलीवुड फिल्मों में डांस को ‘सलीके’ के एक विशेष आवरण में बंद करके पेश किया जाता है। वह स्पष्ट करते हैं, ‘बॉलीवुड डांस में कोई बुराई नहीं है। यह अब एक अलग आर्ट फॉर्म बन चुका है। पर ईमानदारी से कहूं तो मुझे ऐसा महसूस होता है कि बेपरवाह डांस कोई भी कर सकता है और सबको करना चाहिए। बस म्यूजिक चलाओ और शुरू हो जाओ!’ एक आगामी एक्शन-थ्रिलर फिल्म में एक्टर ऋतिक रोशन, टाइगर श्रॉफ के साथ नजर आने वाले हैं। इसमें इन दोनों एक्टर्स के बीच डांस की एक विशेष प्रतिस्पर्धा भी होगी। हालांकि ऋतिक को उनके अब तक के करियर के दौरान हमेशा जबरदस्त डांस और अच्छा दिखने के लिए तारीफें मिलती रही हैं, पर उन्होंने कभी खुद को एक विशेष छवि में कैद नहीं होने दिया। वह कहते हैं, ‘मुझे ऐसा लगता है कि किसी छवि में कैद होना या न होना पूरी तरह एक्टर पर निर्भर करता है। आपके पास निर्णय लेने की आजादी होती है। आप जिंदगी में जिस मुकाम पर हैं, उसके लिए खुद ही जिम्मेदार हैं। हर वो फैसला, जो 

आपने जिंदगी में लिया, आपको वहां पहुंचाता है, जहां आप हैं।’ वह आगे कहते हैं, ‘अगर आप सफल नहीं हो रहे, तो  किसी को भी इसका जिम्मेदार नहीं ठहरा सकते।’                    

    जोया से न नहीं कह सकता
ऋतिक रोशन ने कई विविध विषयों पर आधारित फिल्मों में काम किया है। जब उनसे पूछा गया कि वह ‘जिंदगी न मिलेगी दोबारा’ को खुद के ज्यादा करीब पाते हैं या ‘काबिल’ को? वह बताते हैं, ‘दोनों को। मैं किसी फिल्म के प्रस्ताव को तभी स्वीकारता हूं, जब उसमें कोई बड़ी बात छुपी हो। पर मैं एक कॉमेडी फिल्म में भी काम करना चाहता हूं।’ क्या ‘जिंदगी न मिलेगी दोबारा 2’ को बनाने की बात चल रही है? वह बताते हैं, ‘जोया अख्तर एक ऐसी फिल्म मेकर हैं, जिन्हें मैं कभी न नहीं बोल सकता, क्योंकि मैं उन्हें व्यक्तिगत रूप से जानता हूं। मैं यह अच्छी तरह जानता हूं और मुझे विश्वास है कि वह जो भी करेंगी, मेरे तेवर के अनुरूप होगा। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Hrithik Roshan talk about dance