Delhiites wants hearty life partner - दिल्ली के युवाओं को चाहिए समझदार के साथ दिलदार दिलबर DA Image
21 नबम्बर, 2019|12:05|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिल्ली के युवाओं को चाहिए समझदार के साथ दिलदार दिलबर

दिल्लीवालों को दिल वाला ऐसे ही नहीं कहा जाता। यहां के लोगों का दिल तो बड़ा है ही, साथ ही वे चाहते हैं कि उनका जीवनसाथी भी बड़े दिल वाला हो। दिल्ली के युवाओं का कहना है कि जीवनसाथी की सिर्फ सूरत ही नहीं, बल्कि सीरत भी अच्छी होनी चाहिए...

दिलदार जीवनसाथी की चाह किसे नहीं होती। हाल ही में ब्रिटेन की स्वान्सी यूनिवर्सिटी ने एक अध्ययन किया, जिसके अनुसार हर कोई चाहता है कि उसका जीवनसाथी दिल का अच्छा  हो। यह अध्ययन दुनियाभर  के कॉलेजों के छात्रों पर किया गया था। उन्हें उन गुणों को परिभाषित करने के लिए कहा गया, जो वे अपने साथी में देखना चाहते थे। इस दौरान आर्थिक स्थिति और शारीरिक आकर्षण जैसी अन्य बातों के मुकाबले अधिकांश छात्रों ने बेहतर रिश्ते के लिए अच्छे दिल वाले लोगों को प्राथमिकता दी। दिल्ली के कॉलेज जाने वाले छात्रों ने भी इस अध्ययन को सही माना है और कहा है कि उदारता किसी भी रिश्ते के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है। -रुचिका गर्ग

तेरी खुशी में मेरी खुशी

उदारता रिश्ते के सबसे चुनौतीपूर्ण पहलुओं में से एक है। लेकिन इसे समझना काफी सरल है। जब कोई बड़ा दिल रखने के बारे में बात करता है, तो हम आम तौर पर किसी व्यक्ति की मदद करना या उसके कुछ छोटे काम करने के बारे में सोचते हैं। लेकिन रिश्तों के संदर्भ में यह बहुत जटिल है और इसका अर्थ दूसरे व्यक्ति की इच्छा को अपने से ऊपर रखना है, जिसमें समझ, सहानुभूति और नि:स्वार्थ व्यवहार की आवश्यकता होती है। हर कोई दूसरे व्यक्ति में इन गुणों की तलाश करता है। मुझे लगता है, आजकल ज्यादातर रिश्तों में इस चीज की कमी है। इसलिए, किसी ऐसे व्यक्ति को ढूंढ़ना, जो दिल का अच्छा हो, आपके रिश्ते को बेहतर बना सकता है। -भाविक मेहंदीरत्ता, छात्र- तृतीय वर्ष, शहीद सुखदेव कॉलेज ऑफ बिजनेस स्टडीज

अकड़ने वाले नहीं पसंद

उदारता निश्चित रूप से किसी भी रिश्ते के लिए बहुत आवश्यक है। बड़ा दिल रखने से आप दूसरों के प्रति अधिक संवेदनशील हो जाते हैं और मैं ऐसे लोगों को बर्दाश्त नहीं कर सकती, जो बिना किसी कारण के अकड़ते रहते हैं। जब आप दिल के अच्छे होते हैं, तो आपको लोग पसंद करने हैं और आपकी सराहना करते हैं। मैं चाहती हूं, मुझे भी ऐसा ही साथी मिले। -आकांक्षा सहगल, छात्रा- प्रथम वर्ष, किरोड़ीमल कॉलेज

रिश्ता तेरा-मेरा

उदारता रिश्ते का एक अभिन्न अंग है, क्योंकि यदि आप अपने साथी के प्रति उदार नहीं हैं, तो आप उससे कुछ भी उम्मीद नहीं कर सकते। दिलदार होने का अर्थ केवल दूसरों को हर प्रकार की चीज देकर खुश करना भर नहीं है, बल्कि इसका अर्थ दूसरों का सम्मान करने और यदि वे गलत हैं, तो उन्हें बेहतर तरीके से समझाने से है। यदि आप बड़े दिल वाले हैं, तो सम्मान, प्यार और विश्वास अपने आप बढ़ेगा। आप एक बेहतर साथी बनेंगे। यह एक खुशहाल रिश्ते का सबसे प्रमुख अंग है। 
-नव्या रोहतगी, छात्रा-प्रथम वर्ष, शहीद राजगुरु कॉलेज

मायने रखती है उदारता

मेरी राय में, हर कोई अच्छे लुक से आकर्षित होता है। लेकिन हमें उसे नैतिक कारकों में शामिल नहीं करना चाहिए कि वह कैसी दिखती हैं, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। क्योंकि हमें फर्क पड़ता है। और ऐसे ही समाज का निर्माण किया गया है। लेकिन इसके बाद जो चीजें आती हैं, वे बहुत जरूरी हैं। अगर मैं किसी ऐसे व्यक्ति से बात कर रहा हूं, जो मुझे आकर्षक लगता है, तो निर्णय लेने की वजह कभी उसके लुक नहीं होंगे। मेरे अनुसार, आपके दिमाग में कोई प्रतिक्रिया तब होती है, जब आप उस व्यक्ति से बात करते हैं और एक जुड़ाव महसूस करते हैं। जुड़ाव अधिक मायने रखता है। यदि आप आम तौर पर लोगों के प्रति असभ्य हैं, तो आप एक ऐसे व्यक्ति की तलाश नहीं करेंगे, जो एक तरह से उदार व्यक्तित्व का हो। लेकिन यहां उदारता यह होगी कि व्यक्ति आपके प्रति कितना बड़ा दिल रखता है, और इससे आप कितनी अच्छी तरह खुद को जोड़ पाते हैं। यह महत्वपूर्ण है, क्योंकि कई बार ऐसे पल आते हैं, जब आप अपने साथी द्वारा दिखाई गई उदारता के प्रति ईमानदार रहते हैं। तो उदारता किसी भी रिश्ते के लिए मायने रखती है। -माणिक दुआ, छात्र-प्रथम वर्ष, रामजस कॉलेज

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Delhiites wants hearty life partner