ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News हिमाचल प्रदेश'वे खुद इंसान कम पक्षी ज्यादा दिखते हैं...' सैम पित्रोदा के बयान पर भड़कीं कंगना रनौत बोलीं

'वे खुद इंसान कम पक्षी ज्यादा दिखते हैं...' सैम पित्रोदा के बयान पर भड़कीं कंगना रनौत बोलीं

कंगना रनौत ने सैम पित्रोदा के बयान पर नाराजगी जताते हुए लिखा कि ये इनकी नस्लवादी और विभाजनकारी सोच को दिखाता है। भारतीय लोगों को चीनी और अफ्रीकी कहना बहुत ही घटिया है और कांग्रेस को शर्म आनी चाहिए।

'वे खुद इंसान कम पक्षी ज्यादा दिखते हैं...' सैम पित्रोदा के बयान पर भड़कीं कंगना रनौत बोलीं
Sourabh Jainलाइव हिंदुस्तान,शिमलाWed, 08 May 2024 05:43 PM
ऐप पर पढ़ें

इंडियन ओवरसीज कांग्रेस के अध्यक्ष सैम पित्रोदा के भारतीयों के रंग-रूप पर दिए बयान पर मचे बवाल के बाद हिमाचल प्रदेश की मंडी सीट से भाजपा प्रत्याशी और एक्ट्रेस कंगना रनौत ने भी इस मुद्दे पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। कंगना ने कहा है कि इन बयानों से समझा जा सकता है कि इनकी पूरी विचारधारा फूट डालो और राज करो वाली है और इस कांग्रेस को शर्म आनी चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा कि पित्रोदा खुद इंसान कम और चिड़िया ज्यादा लगते हैं।

कंगना ने इस मामले में दो अलग-अलग सोशल मीडिया अकाउंट्स पर अपनी प्रतिक्रिया दी। अपने एक्स अकाउंट पर सैम पित्रोदा के बयान का वीडियो शेयर करते हुए उन्होंने लिखा, 'सैम पित्रोदा, राहुल गांधी के मेंटर हैं। भारतीयों के लिए उनके नस्लवादी और विभाजनकारी कटाक्ष सुनें। उनकी पूरी विचारधारा फूट डालो और शासन करो वाली है। भारतीय लोगों को चीनी और अफ्रीकी कहना बहुत ही घिनौना है। कांग्रेस को शर्म आनी चाहिए।'

वहीं अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर दो स्टोरी शेयर करते हुए कंगना ने लिखा, 'कांग्रेस के अंकल सैम का कहना है कि दक्षिण भारतीय अफ्रीकियों जैसे दिखते हैं, पूर्व/उत्तर-पूर्व के भारतीय चीनियों जैसे लगते हैं, गुजरात बेल्ट के लोग अरबों की तरह दिखते हैं और उत्तर के लोग गोरों जैसे दिखते हैं, मैं सोच रही हूं कि अंकल सैम भारत के किस हिस्से से संबंध रखते हैं, क्योंकि वे इंसान कम और पक्षी की तरह ज्यादा दिखते हैं।'

वहीं इंस्टाग्राम पर लगाई अपनी दूसरी स्टोरी में कंगना ने लिखा, 'श्याम का मतलब है काला रंग, भगवान राम सबसे ज्यादा गहरे काले रंग के थे, अर्जुन भी काले थे और द्रोपदी उन सभी में सबसे काली थीं, फिर भी वह अब तक की सबसे सुन्दर और आकर्षक महिला थीं। कृष्ण ने उन्हें उनका नाम दिया था, वे हमेशा उनके रंग के कारण उन्हें प्यार से 'कृष्णा' कहकर बुलाते थे। इस देश के गहरे रंग के लोग अपने पूर्वजों की तरह दिखते हैं, ना कि ऊपर बताए गए अफ्रीकियों की तरह। जब अर्जुन ने एक मणिपुरी महिला से शादी की, तो उन्होंने चित्रांगदा नाम की सनातनी राजकुमारी से शादी की थी, ना कि चीनियों की तरह दिखने वाली लड़की से। गुजरात और महाराष्ट्र के लोग पूरी तरह से भारतीय दिखते हैं, इसी तरह उत्तर भारत के लोग भी बिल्कुल भारतीय दिखते हैं। सिर्फ इसलिए कि आपके राजाबाबू इटैलियन हैं, इसका मतलब यह नहीं है कि सभी के जीन मिश्रित हैं। हम 100% शुद्ध देसी भारतीय हैं।'

इससे पहले सैम पित्रोदा ने एक इंटरव्यू के दौरान भारतीयों पर टिप्पणी करते हुए कहा था, 'हम भारत जैसे विविधता से भरे देश को एकजुट रख सकते हैं। जहां पूर्व के लोग चीनी जैसे लगते हैं, पश्चिम के लोग अरब जैसे दिखते हैं, उत्तर के लोग गोरों जैसे और दक्षिण भारतीय अफ्रीकी जैसे दिखते हैं।' आगे उन्होंने कहा, 'हालांकि इससे कोई फर्क नहीं पड़ता, हम सभी बहन-भाई हैं। भारत में अलग-अलग क्षेत्र के लोगों के रीति-रिवाज, खान-पान, धर्म, भाषा अलग-अलग हैं, लेकिन भारत के लोग एक-दूसरे का सम्मान करते हैं।'