ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ हिमाचल प्रदेशHimachal Weather: हिमाचल में भारी बर्फबारी, 265 सड़कें बंद, जानें पूरे हफ्ते का अपडेट

Himachal Weather: हिमाचल में भारी बर्फबारी, 265 सड़कें बंद, जानें पूरे हफ्ते का अपडेट

Himachal Weather Update News: हिमाचल प्रदेश के लाहौल और स्पीति, चंबा, किन्नौर, शिमला और कुल्लू जिलों में ताजा बर्फबारी के कारण 265 सड़कें बंद हो गई हैं। जानें इस हफ्ते कैसा रहेगा मौसम...

Himachal Weather: हिमाचल में भारी बर्फबारी, 265 सड़कें बंद, जानें पूरे हफ्ते का अपडेट
Krishna Singhलाइव हिंदुस्तान,शिमलाWed, 25 Jan 2023 03:27 PM
ऐप पर पढ़ें

पश्चिमी विक्षोभ के कारण हिमाचल प्रदेश में मौसम बिगड़ गया है। सूबे में तगड़ी बर्फबारी देखी जा रही है। लाहौल, स्पीति, चंबा, किन्नौर, शिमला और कुल्लू जिलों में ताजा बर्फबारी के कारण 265 सड़कें बंद हो गई हैं। केलांग रात में सबसे ठंडा रहा, जहां न्यूनतम तापमान माइनस 4.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। स्थानीय मौसम विभाग ने सूबे में 30 जनवरी तक बारिश और बर्फबारी की चेतावनी दी है। मौसम विभाग का कहना है कि एक और पश्चिमी विक्षोभ शुक्रवार रात से सूबे को प्रभावित करेगा। इससे आगे भी बारिश और बर्फबारी का दौर जारी रहेगा। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि यह पश्चिमी विक्षोभ मौजूदा सिस्टम से ज्यादा ताकतवर होगा। 

वहीं मौसम का पूर्वानुमान जारी करने वाली निजी एजेंसी स्काईमेट वेदर के मुताबिक, पिछले वाले से अधिक मजबूत एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ 28 जनवरी को पश्चिमी हिमालय पर दस्तक देगा। इसके प्रभाव से राजस्थान के ऊपर एक चक्रवाती परिसंचरण बनेगा। इसका असर मैदानी इलाकों में भी देखा जाएगा। इसके प्रभाव से 28 से 30 जनवरी के दौरान हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और जम्मू-कश्मीर के ऊंचाई वाले इलाकों में भारी बारिश और बर्फबारी देखी जा सकती है। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि 29 जनवरी को बारिश और बर्फबारी की गतिविधियां चरम पर होंगी। मौसम विभाग ने किसानों को फसलों की सिंचाई नहीं करने की सलाह दी है। 

मौसम विभाग की ओर से किसानों को जलभराव से बचने के लिए उचित उपाय करने की सलाह दी गई है। मैदानी इलाकों में आलावृष्टि की चेतावनी भी जारी की गई है। ताजा पश्चिमी विक्षोभ के चलते राज्य में न्यूनतम तापमान में तीन से पांच डिग्री की बढ़ोतरी हुई है। बर्फबारी के कारण लाहौल और स्पीति में 139, चंबा में 92, शिमला और कुल्लू में 13-13, मंडी में तीन और कांगड़ा जिले में दो सड़कें अवरुद्ध हो गई हैं। इनमें रोहतांग दर्रे के पास राष्ट्रीय राजमार्ग 3, जालोरी दर्रे के पास राष्ट्रीय राजमार्ग 305 और ग्रम्फू से लोसर तक राष्ट्रीय राजमार्ग 505 शामिल हैं।

गोंडला में 50.5 सेमी, सलूनी में 46 सेमी, कुकुमसेरी में 32 सेमी, भरमौर में 30 सेमी, केलांग में 23 सेमी, हंसा में 20 सेमी, कोठी में 10 सेमी, खदराला और सांगला में 8 सेमी, कल्पा में 5 सेमी, नारकंडा 5 सेमी, पूह 3 सेंटीमीटर और कुफरी 1 सेंटीमीटर हिमपात हुआ। नगरोटा सूरियां में सबसे ज्यादा 90 मिमी बारिश हुई। इसके बाद चंबा में 73 मिमी, गुलेर में 69 मिमी, धर्मशाला में 68 मिमी, गुलयानी में 60 मिमी, ऊना में 50 मिमी, पालमपुर में 40 मिमी और हमीरपुर में 28 मिमी बारिश हुई। स्काईमेट वेदर का कहना है कि 31 जनवरी और उसके बाद तूफानी मौसम की स्थिति में सुधार की संभावना है। 

मौसम का ताजा हाल जानने के लिए क्लिक करें