ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News हिमाचल प्रदेशभट्ठी की तरह तपा हिमाचल, तापमान 44 डिग्री के पार, शिमला में सीजन का सबसे गर्म दिन

भट्ठी की तरह तपा हिमाचल, तापमान 44 डिग्री के पार, शिमला में सीजन का सबसे गर्म दिन

Himachal Pradesh Heat Wave Alert: हिमाचल प्रदेश भीषण लू की चपेट में है। मौसम विभाग ने सूबे के विभिन्न हिस्सों में विभिन्न स्थानों पर लू चलने का येलो अलर्ट जारी किया है। इस हफ्ते कैसा रहेगा मौसम?

भट्ठी की तरह तपा हिमाचल, तापमान 44 डिग्री के पार, शिमला में सीजन का सबसे गर्म दिन
Krishna Singhलाइव हिन्दुस्तान,शिमलाSun, 26 May 2024 10:59 PM
ऐप पर पढ़ें

Delhi Weather News: हिमाचल प्रदेश में भीषण लू चल रही है। राजधानी शिमला में 30.6 डिग्री सेल्सियस तापमान के साथ सीजन का सबसे गर्म दिन दर्ज किया गया। ऊना राज्य में सबसे गर्म रहा जहां 44.4 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। स्थानीय मौसम विभाग के निदेशक सुरेन्द्र पॉल ने बताया कि ऊना, बिलासपुर, हमीरपुर और सोलन जिलों में अलग-अलग स्थानों पर अधिकतम तापमान सामान्य से ऊपर रहा और लू चली। IMD ने 27 से 30 मई तक ऊना, बिलासपुर, हमीरपुर, सिरमौर, कांगड़ा, चंबा, शिमला, कुल्लू, मंडी और सोलन में विभिन्न स्थानों पर लू चलने का येलो अलर्ट जारी किया है।

शिमला में इस मौसम का सबसे गर्म दिन रिकॉर्ड किया गया। शिमला में पारा 30.6 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। मौसम विभाग के रिकॉर्ड के अनुसार, शिमला में 27 मई 2010 को सबसे अधिक 32.4 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया था। इससे पहले 20 मई को शिमला में अधिकतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। 

पांवटा साहिब रात में सबसे गर्म रहा, जहां न्यूनतम तापमान 30.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। सूबे के कई स्थानों पर अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस के पार रिकॉर्ड किया गया। बिलासपुर में अधिकतम तापमान 42.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि धौलाकुआं में 42.8 डिग्री सेल्सियस, बर्थिन में 41.2 डिग्री सेल्सियस, हमीरपुर में 42.1 डिग्री सेल्सियस और कांगड़ा में 40.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मौसम विभाग की ओर से जारी ऑल इंडिया वेदर अपडेट के मुताबिक, 26 से 30 मई के दौरान जम्मू संभाग, हिमाचल प्रदेश, पूर्वी उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में जबकि 26 से 28 मई के दौरान पूर्वी मध्य प्रदेश में और 28 से 30 मई के दौरान छत्तीसगढ़ में लू चलने का अलर्ट जारी किया गया है। 26 से 29 मई के दौरान पश्चिमी मध्य प्रदेश में लू चलने की संभावना है। वहीं चक्रवाती तूफान रेमल के खतरे को देखते हुए पश्चिमी बंगाल के संवेदनशील क्षेत्रों से एक लाख से अधिक लोगों को सुरक्षित जगहों पर भेजा गया है। तूफान की स्पीड 100 से 110 किलोमीटर प्रति घंटा बताई जा रही है।