ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News हिमाचल प्रदेशबिना इनर लाइन परमिट हिमाचल के किन्नौर में दाखिल हुआ चीनी युवक दबोचा, 10 जून तक पुलिस रिमांड में भेजा गया

बिना इनर लाइन परमिट हिमाचल के किन्नौर में दाखिल हुआ चीनी युवक दबोचा, 10 जून तक पुलिस रिमांड में भेजा गया

हिमाचल प्रदेश की किन्नौर जिला पुलिस ने शुक्रवार को इनर लाइन परमिट का उल्लंघन करने के आरोप में किन्नौर जिले के समधो क्षेत्र से एक चीनी नागरिक युडोंग गुओ को गिरफ्तार किया है।

बिना इनर लाइन परमिट हिमाचल के किन्नौर में दाखिल हुआ चीनी युवक दबोचा, 10 जून तक पुलिस रिमांड में भेजा गया
Praveen Sharmaशिमला।एएनआईSat, 08 Jun 2024 01:32 PM
ऐप पर पढ़ें

हिमाचल प्रदेश की किन्नौर जिला पुलिस ने शुक्रवार को इनर लाइन परमिट का उल्लंघन करने के आरोप में किन्नौर जिले के समधो क्षेत्र से एक चीनी नागरिक को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए इस चीनी नागरिक का नाम युडोंग गुओ है और उसकी पत्नी भारतीय मूल की नागरिक है।

चीनी मूल का युवक गुरुवार देर शाम अपनी भारतीय मूल की पत्नी के साथ बिना इनर लाइन परमिट के किन्नौर-तिब्बत सीमा में प्रवेश करने के लिए यात्रा कर रहा था, तभी उसे पुलिस ने पकड़ लिया।

शुक्रवार को उसे किन्नौर, रिकांग पियो के चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश किया गया, जहां से उसे 10 जून तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। बता दें कि, उसकी पत्नी के पास भारतीय दस्तावेज हैं, इसलिए उसे गिरफ्तार नहीं किया गया है, क्योंकि भारतीय नागरिक को यहां जिले के सीमावर्ती क्षेत्र में यात्रा करने के लिए इनर-लाइन परमिट की आवश्यकता नहीं होती है।

34 वर्षीय चीनी नागरिक को विदेशी अधिनियम की धारा 14(ए) और आपराधिक दुष्प्रेरण अधिनियम (Criminal Abetment Act) की धारा 3 के तहत गिरफ्तार किया गया है।

चीनी नागरिक की गिरफ्तारी के बाद जनजातीय विकास एवं राजस्व मंत्री जगत सिंह नेगी ने कहा, "चीनी नागरिक को इनर लाइन परमिट के उल्लंघन के आरोप में किन्नौर में गिरफ्तार किया गया है। पता चला है कि उनके पास पासपोर्ट और वैध दस्तावेज हैं, लेकिन यह क्षेत्र विदेशी नागरिकों के लिए प्रतिबंधित क्षेत्र है और उन्हें इस क्षेत्र में जाने के लिए स्थानीय एसडीएम और एडिशनल कमिश्नर से इजाजत लेनी होती है। उसके पास इनर लाइन परमिट नहीं था और उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। यह एक चीनी जोड़ा है जिसका नाम युडोंग गुओ और उसकी पत्नी दिशा भारतकर है जो नागपुर की निवासी है। एफआईआर दर्ज कर ली गई है और उन्हें मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया जाएगा और निश्चित रूप से उन्हें रिमांड पर भेजा जाएगा।"

जगत नेगी ने कहा, "इनर लाइन परमिट की जांच करने में बाधा है और पुलिस को विदेशी नागरिक के परमिट की जांच करनी चाहिए, मामले की जांच की जा रही है। कई बार आपको शिमला, रिकांग-पिओ या एडीएम पूह से परमिट मिल जाता है। मुझे जानकारी है कि उसके पास पर्यटक वीजा है और मामले की जांच की जा रही है।"

उल्लेखनीय है कि हिमाचल प्रदेश के जनजातीय जिला किन्नौर के तिब्बत सीमावर्ती क्षेत्रों में बिना इनर लाइन परमिट के विदेशी नागरिक डुबलिंग से आगे नहीं जा सकते, लेकिन उक्त व्यक्ति बैरियर पार कर आगे बढ़ने में कामयाब हो गया और समदो नामक स्थान पर पकड़ा गया।

डीएसपी किन्नौर जिला मुख्यालय नवीन जाल्टा ने फोन पर बताया कि यह राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ा मामला है, इसलिए इस मामले में तत्काल कोई प्रतिक्रिया नहीं दी जाएगी। 

Advertisement