ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News हिमाचल प्रदेशहिमाचल प्रदेश उपचुनाव में भाजपा ने झोंकी ताकत, कांग्रेस उलझी, क्या बन रहे समीकरण?

हिमाचल प्रदेश उपचुनाव में भाजपा ने झोंकी ताकत, कांग्रेस उलझी, क्या बन रहे समीकरण?

हिमाचल प्रदेश की तीन विधानसभा सीटों के लिए भाजपा उम्मीदवार उतार चुकी है। भाजपा उम्मीदवार चुनाव प्रचार में पसीना बहा रहे हैं। दूसरी तरफ कांग्रेस पिछड़ती नजर आ रही है। क्या बन रहे समीकरण...

हिमाचल प्रदेश उपचुनाव में भाजपा ने झोंकी ताकत, कांग्रेस उलझी, क्या बन रहे समीकरण?
Krishna Singhलाइव हिन्दुस्तान,शिमलाMon, 17 Jun 2024 02:36 PM
ऐप पर पढ़ें

हिमाचल प्रदेश की तीन विधानसभा सीटों देहरा, नालागढ़ और हमीरपुर में उपचुनाव के लिए भाजपा अपने उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर चुकी है। भाजपा उम्मीदवार तीनों हलकों में चुनाव प्रचार में पसीना बहा रहे हैं। दूसरी तरफ कांग्रेस पिछड़ती नजर आ रही है। कांग्रेस अभी तक उम्मीदवारों के चयन में उलझी है। कांग्रेस अभी तक एक भी सीट पर उम्मीदवारों का चयन नहीं कर पाई है। तीनों सीटों पर कांग्रेस के कार्यकर्ता अपने उम्मीदवारों की घोषणा का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। इस कारण कांग्रेस का प्रचार शुरू नहीं हो पाया है। 

इस तरह से भाजपा ने चुनाव प्रचार में ही कांग्रेस को काफी पीछे छोड़ दिया है। उपचुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने की आखिरी तारीख 21 जून है। ऐसे में अब नामांकन के लिए सिर्फ चार दिन बचे हैं। कांग्रेस नेताओं का कहना है कि एक-दो दिन में तीनों सीटों पर उम्मीदवारों की सूची जारी कर देगी। प्राप्त जानकारी के अनुसार, देहरा और नालागढ़ सीटों पर कांग्रेस वर्ष 2022 के विस चुनाव लड़ चुके प्रत्याशियों को टिकट देने के पक्ष में है। 

देहरा से राजेश शर्मा और नालागढ़ से हरदीप बाबा टिकट की दौड़ में सबसे आगे हैं, जबकि मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू के गृह जिला की हमीरपुर विधानसभा सीट पर उम्मीदवार के चयन में पेंच फंसा है। यहां से पूर्व प्रत्याशी डॉक्टर पुष्पेंद्र वर्मा, मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार सुनील शर्मा और पूर्व विधायक अनिता वर्मा टिकट की दौड़ में हैं। 

उधर भाजपा ने विधानसभा सदस्यता से इस्तीफा देने वाले तीनों निर्दलीय विधायकों को उम्मीदवार बनाया है। देहरा से होशियार सिंह, हमीरपुर से आशीष शर्मा और नालागढ़ से केएल ठाकुर को टिकट मिला है। दरअसल, साल 2022 के विस चुनाव में ये तीनों सीटें निर्दलीय विधायकों के खाते में थी। देहरा से होशियार सिंह, हमीरपुर से आशीष शर्मा और नालागढ़ से केएल ठाकुर ने चुनाव जीता था। 

हालांकि, निर्दलीय विधायक सत्तारूढ़ कांग्रेस सरकार को समर्थन दे रहे थे। इसी साल 27 फरवरी को राज्यसभा की एक सीट पर हुए चुनाव में इन तीनों ने भाजपा प्रत्याशी के पक्ष में वोट किया। इसके बाद इन्होंने विधानसभा सदस्यता से इस्तीफा दिया और भाजपा में शामिल हो गए। लोकसभा चुनाव के नतीजों से एक दिन पहले विधानसभा अध्यक्ष ने इनका इस्तीफा मंजूर किया था। तीनों विधानसभा हलकों में 10 जुलाई को मतदान होगा और 13 जुलाई को चुनाव नतीजे आएंगे। 

रिपोर्ट- यूके शर्मा