Government is committed to find a permanent solution to Shimla water conservation says CM - शिमला जलसंकट का स्थायी हल ढूंढने के लिए सरकार कटिबद्ध : मुख्यमंत्री DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शिमला जलसंकट का स्थायी हल ढूंढने के लिए सरकार कटिबद्ध : मुख्यमंत्री

People fill water from the tanker during water crisis at US Club area in Shimla city on Wednesday

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज कहा कि उनकी सरकार शिमला शहर के जलसंकट का स्थायी हल ढूंढने के लिए कटिबद्ध है।

ठाकुर ने यहां संवाददाताओं से बताचीत में कहा कि शहर को अगले पांच दशकों तक पेजयल की आपूर्ति के लिए एक दीर्घकालीन परियोजना पर काम किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि उनके अनुरोध पर ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केंद्रीय जल आयोग की एक टीम प्रदेश को भेजी। श्री ठाकुर ने कहा कि उन्होंने केंद्र से शिमला में जलापूर्ति परियोजना के लिए 200 करोड़ रुपये मांगे हैं।

 मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने एक साल के अंदर छाबा से शिमला को 10 एमएलडी पानी की आपूर्ति का लक्ष्य रखा है  जस पर 80 करोड़ रुपये खर्च किये जाएंगे।

उन्होंने कहा कि शिमला के लिए कोल बांध से पानी लाने, भूजल स्तर बनाये रखने और जल संरक्षण योजनाओं पर भी सरकार काम कर रही है।

उन्होंने कहा कि पिछले दिनों शिमलावासियों को जलसंकट का सामना, कम बारिश और जाड़े में बर्फ कम गिरने के कारण करना पड़ा। उन्होंने कहा कि मई और जून के महीनों में हालांकि शिमला में पिछले कई सालों से जल संकट होता है और पिछली सरकार ने इसका समाधान ढूंढने की कोई कोशिश नहीं की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Government is committed to find a permanent solution to Shimla water conservation says CM