ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News हिमाचल प्रदेशहिमाचल प्रदेश के किन्नौर में भूकंप के झटके, जानिए कितनी रही तीव्रता

हिमाचल प्रदेश के किन्नौर में भूकंप के झटके, जानिए कितनी रही तीव्रता

शनिवार दोपहर 2 बजकर 35 मिनट पर किन्नौर में भूकंप आया और रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 3.0 आंकी गई। भूकंप का केंद्र लिप्पा खास (मूरंग) में जमीन के अंदर पांच किलोमीटर की गहराई में स्थित था।

हिमाचल प्रदेश के किन्नौर में भूकंप के झटके, जानिए कितनी रही तीव्रता
Devesh Mishraवार्ता,शिमलाSat, 20 Jan 2024 08:00 PM
ऐप पर पढ़ें

हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। जानकारी के मुताबिक, शनिवार दोपहर 2 बजकर 35 मिनट पर किन्नौर में भूकंप आया और रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 3.0 आंकी गई। भूकंप का केंद्र लिप्पा खास (मूरंग) में जमीन के अंदर पांच किलोमीटर की गहराई में स्थित था। तीव्रता कम होने के चलते भूकंप से किसी तरह के जानमाल के नुकसान की सूचना नहीं है।

भूकंप के आने की मुख्य वजह धरती के अंदर प्लेटों का टकरना है। धरती के भीतर सात प्लेट्स होती हैं जो लगातार घूमती रहती हैं। जब ये प्लेटें किसी जगह पर आपस में टकराती हैं, तो वहां फॉल्ट लाइन जोन बन जाता है और सतह के कोने मुड़ जाते हैं। सतह के कोने मुड़ने की वजह से वहां दबाव बनता है और प्लेट्स टूटने लगती हैं। इन प्लेट्स के टूटने से अंदर की एनर्जी बाहर आने का रास्ता खोजती है, जिसकी वजह से धरती हिलती है और हम इसे भूकंप मानते हैं।

यह भी जानिए:
हिमाचल प्रदेश के धामी इलाके के एक गांव में चार मंजिला इमारत ढह गई। इस हादसे में एक सरकारी कॉलेज को जाने वाली सड़क क्षतिग्रस्त हो गई और यातायात बाधित हो गया। इस घटना में कोई हताहत नहीं हुआ। इमारत में रह रहे सभी निवासियों को पहले ही बाहर निकाल लिया गया था और इसके बिजली कनेक्शन काट दिए गए थे।

अधिकारियों ने बताया कि यह घटना मराहवाग गांव में 16 माइल पर दोपहर करीब 12 बजे हुई। अधिकारियों ने कहा कि राज कुमार का मकान धंस रहा था और इसके आधार स्तंभों में दरारें आ गई थी। उन्होंने बताया कि इमारत के ढहने की आशंका को देखते हुए जानमाल के नुकसान को रोकने के लिए इसे पहले ही खाली करा लिया गया था।

अधिकारियों ने बताया कि यहां धामी में सरकारी डिग्री कॉलेज की ओर जाने वाली सड़क इमारत गिरने के कारण आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हो गई, जिससे यातायात बाधित हो गया। उप-संभागीय मजिस्ट्रेट (ग्रामीण) निशांत ने बताया कि इस घर के ऊपर पहाड़ी इलाके में खुदाई के काम के कारण यह इमारत ढह गई। उन्होंने बताया कि गिरी हुई इमारत के ऊपर वाले क्षेत्र में दिनेश कुमार नाम का व्यक्ति अपना घर बना रहा है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें