ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News हिमाचल प्रदेशकांग्रेस ने धर्मशाला से पूर्व महापौर देविंदर सिंह जग्गी को दिया टिकट, भाजपा के सुधीर शर्मा को देंगे टक्कर

कांग्रेस ने धर्मशाला से पूर्व महापौर देविंदर सिंह जग्गी को दिया टिकट, भाजपा के सुधीर शर्मा को देंगे टक्कर

टिकट की दौड़ में देविंदर सिंह जग्गी का नाम शुरू से ही आगे चल रहा था। मगर कांग्रेस का एक धड़ा भाजपा से बगावत कर चुके राकेश चौधरी को टिकट देने की वकालत कर रहा था। हालांकि मुहर जग्गी के नाम पर ही लगी।

कांग्रेस ने धर्मशाला से पूर्व महापौर देविंदर सिंह जग्गी को दिया टिकट, भाजपा के सुधीर शर्मा को देंगे टक्कर
Sourabh JainPTI,शिमलाWed, 08 May 2024 11:12 PM
ऐप पर पढ़ें

कांग्रेस ने हिमाचल प्रदेश की धर्मशाला विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव के लिए पूर्व महापौर देविंदर सिंह जग्गी को टिकट दिया है। बुधवार रात एक बयान जारी करते हुए पार्टी ने जग्गी की उम्मीदवारी की घोषणा की। अब वे इस सीट पर पूर्व मंत्री और कांग्रेस के बागी सुधीर शर्मा का मुकाबला करेंगे। उनके नाम पर पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने अंतिम सहमति दी। 

जग्गी को विधानसभा का टिकट मिलने पर उन्हें बधाई देते हुए राज्य के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने लिखा, 'हिमाचल प्रदेश उपचुनाव में धर्मशाला विधानसभा क्षेत्र से देवेंद्र सिंह जग्गी जी को कांग्रेस प्रत्याशी घोषित किये जाने पर हार्दिक शुभकामनाएं। देवभूमि की जनता-जनार्दन इस उपचुनाव में प्रदेश के साथ समूचे देश को यह संदेश दे देगी कि जनबल के आगे धनबल कभी टिक नहीं सकता।'

जग्गी के नाम की घोषणा के साथ ही कांग्रेस की तरफ से राज्य की उन सभी छह विधानसभा सीटों के लिए प्रत्याशियों के नाम की घोषणा पूरी हो गई, जहां पर उपचुनाव होने हैं। इन सीटों के सभी छह कांग्रेस विधायकों को पार्टी व्हिप का उल्लंघन करते हुए विधानसभा में उपस्थित ना रहने और  बजट व कटौती प्रस्ताव पर सरकार के पक्ष में वोट ना डालने के लिए अयोग्य घोषित किया गया था। 

कांग्रेस के छह बागी विधायकों रवि ठाकुर (लाहौल और स्पिति), इंदर दत्त लखनपाल (बड़सर), राजिन्दर राणा (सुजानपुर), सुधीर शर्मा (धर्मशाला), चेतन्य शर्मा (गरगेट) और देविन्दर कुमार भुट्टो (कुटलेहर) ने 27 फरवरी को राज्यसभा चुनाव के दौरान भाजपा के उम्मीदवार के पक्ष में मतदान किया था और बाद में भाजपा में शामिल हो गए थे। जिसके बाद अब पार्टी ने उपचुनाव के लिए कांग्रेस के इन सभी छह बागियों को इन्हीं सीटों से अपना उम्मीदवार बनाया है।


कांग्रेस ने इन छह उपचुनावों के लिए जिला परिषद अध्यक्ष अनुराधा राणा को लाहौल और स्पिति सीट से, सुभाष चंद को बड़सर से, भाजपा छोड़ने वाले कैप्टन रणजीत सिंह और राकेश कालिया को सुजानगढ़ और गरगेट से टिकट दिया है। पार्टी ने कुटलेहर सीट से हिमाचल विधानसभा के डिप्टी स्पीकर और वरिष्ठ कांग्रेसी नेता रामनाथ शर्मा के बेटे विवेक शर्मा को टिकट दिया है। 

प्रदेश की चार लोकसभा सीटों के साथ-साथ छह विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के लिए मतदान 1 जून को होगा।