ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News हिमाचल प्रदेशहिमाचल की इस सीट से CM सुक्खू की पत्नी को मिला टिकट, बीजेपी के होशियार सिंह से टक्कर

हिमाचल की इस सीट से CM सुक्खू की पत्नी को मिला टिकट, बीजेपी के होशियार सिंह से टक्कर

कांग्रेस को यह उम्मीद है कि मुख्यमंत्री की पत्नी को उतारकर देहरा सीट से पहली बार कांग्रेस परचम लहराएगी। कमलेश को चुनाव में उतारने से कांग्रेस महिलाओं को 1500 रुपये की पेंशन के मुद्दे को भी भुनाएगी।

हिमाचल की इस सीट से CM सुक्खू की पत्नी को मिला टिकट, बीजेपी के होशियार सिंह से टक्कर
Nishant Nandanलाइव हिन्दुस्तान,शिमलाTue, 18 Jun 2024 05:05 PM
ऐप पर पढ़ें

कांग्रेस हाईकमान ने हिमाचल प्रदेश की देहरा विधानसभा सीट पर उपचुनाव में चौंकाने वाला फैसला लेता हुए मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू की धर्मपत्नी कमलेश ठाकुर को उम्मीदवार बनाया है। कांग्रेस ने मंगलवार को कमलेश ठाकुर के नाम की घोषणा की। कमलेश ठाकुर पहली बार कोई चुनाव लड़ेंगी। उनका मुकाबला भाजपा के होशियार सिंह से होगा। यह पहला मौका है कि किसी पार्टी ने प्रदेश के मुख्यमंत्री की पत्नी को विधानसभा चुनाव में उतारा है। देहरा से कांग्रेस सशक्त उम्मीदवार की तलाश कर रही थी। कांग्रेस के सर्वे में कमलेश ठाकुर सबसे मजबूत उम्मीदवार बनकर उभरी हैं। 

कमलेश ठाकुर का मायका इसी निर्वाचन क्षेत्र से सटे रक्कड़ इलाके में है। देहरा कांग्रेस के नेता एक सुर से कमलेश ठाकुर को उम्मीदवार बनाने की वकालत कर रहे थे। देहरा ब्लॉक कांग्रेस ने इस सम्बंध में एक प्रस्ताव भी पारित किया है। कांग्रेस को यह भी उम्मीद है कि मुख्यमंत्री की पत्नी को उतारकर देहरा सीट से पहली बार कांग्रेस परचम लहराएगी। कमलेश को चुनाव में उतारने से कांग्रेस महिलाओं को 1500 रुपये की पेंशन के मुद्दे को भी भुनाएगी।

दरअसल, देहरा से कांग्रेस पिछले लगातार तीन चुनाव से हार रही है। देहरा हल्का 2008 में अस्तित्व में आया। 2012 के विधानसभा चुनाव में इस सीट से भाजपा के रविन्द्र रवि जीते। 2017 व 2022 के विस चुनाव में इस सीट पर निर्दलीय होशियार सिंह विजयी रहे। कांग्रेस और भाजपा के पूर्व प्रत्याशियों राजेश शर्मा और रमेश धवाला के रूख पर रहेगी नजर।

कांग्रेस पार्टी ने देहरा से पूर्व प्रत्याशी राजेश शर्मा का टिकट काट दिया है। वह पिछले कई दिनों से चुनाव प्रचार में डटे थे। राजेश शर्मा अब क्या भूमिका निभाएंगे, इस पर सब की निगाहें लगी हुई है। दूसरी तरफ भाजपा ने भी पूर्व में पार्टी के प्रत्याशी रहे रमेश धवाला की टिकट काटकर दो बार निर्दलीय विधायक जितने वाले होशियार सिंह को पार्टी में शामिल कर टिकट थमा दिया है। ऐसे में भाजपा और कांग्रेस दोनों ही दलों में बदले सियासी समीकरणों से मुकाबला बेहद रोचक हो गया है।

मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू की पत्नी के चुनाव मैदान में उतरने के बाद अब पूरे प्रदेश ही नहीं देश भर की नजरें देहरा विधानसभा क्षेत्र पर रहने वाली है। भाजपा में भी पूर्व में मंत्री रहे और कभी धूमल सरकार बनाने वाले रमेश धवाला का अगला कदम क्या होगा, इस पर भी सबके निगाहें लगी हुई है। विधानसभा उपचुनाव में नामांकन भरने की तिथि 21 जून तक है। यहाँ 10 जुलाई को मतदान होगा और 13 जुलाई को नतीजे घोषित होंगे।