ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News हिमाचल प्रदेशहमीरपुर, देहरा और नालागढ़ में भाजपा किसे देगी टिकट, हिमाचल उपचुनाव में क्या है पार्टी का प्लान

हमीरपुर, देहरा और नालागढ़ में भाजपा किसे देगी टिकट, हिमाचल उपचुनाव में क्या है पार्टी का प्लान

हिमाचल प्रदेश में विधानसभा की तीन सीटों पर उपचुनाव होना है। पूर्व मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में हुई भाजपा नेताओं की बैठक में कांग्रेस को घेरने के लिए नई रणनीति पर चर्चा की गई।

हमीरपुर, देहरा और नालागढ़ में भाजपा किसे देगी टिकट, हिमाचल उपचुनाव में क्या है पार्टी का प्लान
leaders
Subodh Mishraलाइव हिन्दुस्तान,शिमलाThu, 13 Jun 2024 06:54 PM
ऐप पर पढ़ें

हिमाचल प्रदेश में 6 विधानसभा सीटों के लिए हुए उपचुनावों में कांग्रेस के 4 सीटें जीतने के बाद मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू के नेतृत्व वाली सरकार को उखाड़ फेंकने की भाजपा की योजना विफल हो गई। अब एक बार फिर यहां 3 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होना है। ऐसे में राज्य की विपक्षी दल भाजपा कांग्रेस सरकार को घेरने के लिए नई रणनीति पर काम कर रही है। हमीरपुर, देहरा और नालागढ़ विधानसभा सीट के लिए होने वाले उपचुनाव में बीजेपी ने इन सीटों पर विधायक रहे निर्दलीय उम्मीदवारों को उतारने का फैसला लिया है। तीनों अब भाजपा में शामिल हो चुके हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में करीब तीन घंटे तक चली बैठक में कुछ को छोड़कर सभी भाजपा विधायक मौजूद रहे। बैठक में प्रदेश भाजपा अध्यक्ष राजीव बिंदल भी मौजूद रहे। भाजपा ने बैठक में हाल के उपचुनावों पर चर्चा की। भाजपा ने कांग्रेस के सभी छह बागियों को मैदान में उतारा था, लेकिन वह केवल दो सीटें- धर्मशाला और बड़सर में ही जीत दर्ज पाई।

बैठक में भाजपा के कई विधायक इस बात को लेकर मुखर थे कि भाजपा नेता विधानसभा उपचुनावों में कांग्रेस की बयानबाजी का प्रभावी ढंग से मुकाबला नहीं कर सके। बैठक में आगामी उपचुनावों को लेकर कांग्रेस के अभियान का मुकाबला करने की रणनीतियों पर भी चर्चा की गई। भाजपा विधायकों के बीच तीन निर्दलीय विधायकों हमीरपुर से आशीष शर्मा, देहरा से होशियार सिंह और नालागढ़ से केएल ठाकुर को टिकट आवंटित करने पर सर्वसम्मति बनी, जिन्होंने 22 मार्च को विधानसभा से इस्तीफा दे दिया था और अगले ही दिन दिल्ली में भाजपा में शामिल हो गए थे।

पूर्व सीएम जयराम ठाकुर ने कांग्रेस सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि अब आचार संहिता हट गई है। इसलिए सरकार द्वारा किये जा रहे किसी भी विकास कार्य पर कोई रोक नहीं है। आरोप लगाया कि जब से कांग्रेस सत्ता में आई है, विकास कार्य ठप हो गए हैं। उन्होंने यह भी कहा कि राज्य में जल संकट गहराता जा रहा है। आए दिन जलापूर्ति बाधित होने की खबरें आ रही हैं। इससे आम लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। लोगों को नियमित जलापूर्ति मिले इसके लिए सरकार को गंभीरता से काम कर प्रभावी कदम उठाना चाहिए। 

विधायक रणधीर शर्मा ने बैठक की जानकारी देते हुए बताया कि विधायक दल में दो प्रस्ताव पारित किए गए, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को तीसरी बार पीएम बनने और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा को दूसरी बार केंद्रीय मंत्री बनने पर बधाई दी गई। दूसरे प्रस्ताव में लोकसभा चुनाव में जिस तरह भाजपा ने 61 विधानसभा क्षेत्रों में जीत हासिल की, उसके लिए भाजपा कार्यकर्ताओं के प्रति आभार व्यक्त किया गया।
शर्मा ने कहा कि बैठक में लोकसभा चुनाव 2024 और 6 उपचुनावों की भी समीक्षा की गई और आगामी तीन उपचुनावों की रणनीति भी तय की गई।