ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News हिमाचल प्रदेशहिमाचल की जिस फैक्ट्री में लगी आग वहां 13 लोग अभी भी लापता, 24 घंटे से रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

हिमाचल की जिस फैक्ट्री में लगी आग वहां 13 लोग अभी भी लापता, 24 घंटे से रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

हिमाचल प्रदेश की एनआर अरोमा फैक्ट्री में शुक्रवार को अपराह्न करीब पौने तीन बजे आग लगी थी। इस हादसे में एक महिला की मौत हो गई है। वहीं 31 लोग घायल हो गए हैं। अभी भी 13 लोग लापता हैं।

हिमाचल की जिस फैक्ट्री में लगी आग वहां 13 लोग अभी भी लापता, 24 घंटे से रेस्क्यू ऑपरेशन जारी
Devesh Mishraभाषा,शिमलाSat, 03 Feb 2024 03:17 PM
ऐप पर पढ़ें

हिमाचल प्रदेश की एक परफ्यूम फैक्ट्री में शुक्रवार को भीषण आग लग गई। आग की चपेट में आने से दर्जनों लोग घायल हो गए। इस अग्निकांड में कल से ही रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। वहीं अभी भी 13 मजदूर लापता हैं। पुलिस ने बताया कि इस हादसे में एक महिला की मौत हो गई है और 31 अन्य घायल हो गए हैं। यह हादसा सोलन जिले के बद्दी औद्योगिक क्षेत्र में एक परफ्यूम फैक्ट्री का है।

13 लोग अभी भी लापता
आग लगने की घटना शुक्रवार को अपराह्न करीब पौने तीन बजे एनआर अरोमा में हुई और अभी तक उस पर काबू नहीं पाया जा सका है। सोलन के उपायुक्त मनमोहन शर्मा ने शनिवार को 'पीटीआई' को बताया कि घटना के समय करीब 50 लोग इमारत में थे और उनमें से कुछ अपने घर भाग गए जबकि 13 लोगों के अब भी लापता होने की आशंका है।

24 घंटे से धू-धूकर जल रही फैक्ट्री
अधिकारी ने बताया कि घटना की मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए गए हैं। आग पर अभी काबू नहीं पाया जा सका है क्योंकि परफ्यूम और अन्य सौंदर्य प्रसाधन बनाने में इस्तेमाल होने वाले ज्वलनशील पदार्थ में आग लग गयी है। पुलिस ने बताया कि लापरवाही का एक मामला दर्ज किया गया है और जांच की जा रही है।

रेस्क्यू ऑपरेशन जारी
राष्ट्रीय आपदा मोचन बल, राज्य आपदा मोचन बल, पुलिस, राजस्व और अन्य दल बचाव अभियान में लगे हुए हैं। अधिकारी ने कहा, ''लोग अपनी जान बचाने के लिए इमारत की पहली और दूसरी मंजिल से कूद गए और उन्हें हाथ, पैर तथा कुछ को तो रीढ़ की हड्डी में भी चोटें आयी हैं।'' अधिकारी ने बताया कि आग लगने की वजह अभी पता नहीं चली है और फॉरेंसिक का एक दल जांच कर रहा है। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि सौंदर्य प्रसाधन सामग्री से निकल रहे धुएं के गुबार के चलते आग पर काबू पाने में बाधा आई और श्रमिक जान बचाने के लिए इमारत की छत पर चढ़ गए।   

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें