Himachal Pradesh: BJP may announce CM on Sunday - हिमाचल: CM का ऐलान आज, नड्डा का पलड़ा भारी, सभी MLAs को शिमला में रहने के निर्देश DA Image
14 दिसंबर, 2019|3:55|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हिमाचल: CM का ऐलान आज, नड्डा का पलड़ा भारी, सभी MLAs को शिमला में रहने के निर्देश

BJP

भाजपा नेतृत्व रविवार को हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री के नाम ऐलान करेगा। सीएम के तौर पर केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा का पलड़ा भारी चल रहा है। पर केंद्रीय नेतृत्व कोई चौंकाने वाला फैसला भी ले सकता है। नाम की घोषणा रविवार दोपहर विधायक दल की बैठक में ही की जाएगी। केंद्रीय नेतृत्व ने राज्य के वरिष्ठ नेता जयराम ठाकुर समेत कई नामों पर भी विचार विमर्श किया है।

सारे मिथक तोड़ नोएडा पहुंचे CM योगी,बोले-फर्क नहीं पड़ता,बार-बार आऊंगा

भाजपा नेतृत्व मिशन 2019 को ध्यान में रखते हुए हिमाचल में नया मुख्यमंत्री बनाना चाहता है ताकि नई सरकार एक साल में राज्य में नई उपलब्धियों के साथ लोकसभा चुनाव की ठोस जमीन तैयार कर सके। सूत्रों के अनुसार केंद्रीय पर्यवेक्षकों ने अपनी रिपोर्ट में साफ किया है कि राज्य में विधायक केंद्र द्वारा लिए गए फैसले का स्वागत करेंगे। ऐसे में केंद्र को फैसला लेने में आसानी हुई है। देर रात तक केंद्रीय पर्यवेक्षकों को नए नेता का नाम बताया जा सकता है, जिसके नाम पर विधायक दल की बैठक में मुहर लगाई जाएगी।

विधायक ही बने मुख्यमंत्री
सूत्रों के अनुसार पार्टी का एक वर्ग अभी भी चुनाव हारने वाले मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार प्रेम कुमार धूमल के खिलाफ है। उसका मानना है कि इससे नैतिक रूप से गलत संदेश जाएगा। जेपी नड्डा और जयराम ठाकुर के नाम पर विधायकों में ज्यादा सहमति हैं। विधायकों की यह भी राय रही है कि विधायकों में से ही नेता चुना जाए तो बेहतर रहेगा। 

फिर बोले उपराष्ट्रपति- वंदे मातरम गाने में किसी को दिक्कत क्यों हो?

मैं मुख्यमंत्री पद के दौड़ में नहीं : धूमल
नई दिल्ली। हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल ने शनिवार को इस बात से इनकार किया कि वह राज्य के मुख्यमंत्री पद की दौड़ में शामिल हैं। धूमल ने बयान जारी कर कहा,हिमाचल प्रदेश के चुनाव के नतीजे आने के दिन ही मैंने स्पष्ट कर दिया था कि मैं राज्य में किसी भी पद की दौड़ में शामिल नहीं हूं। धूमल ने कहा, ये दुर्भाग्यपूर्ण था कि बीजेपी की शानदार जीत के बावजूद मैं अपनी सीट नहीं बचा सका। अटकलें लगाई जा रही है कि मैं अभी भी मुख्यमंत्री की दौड़ में हूं। मैंने रिजल्ट आने के बाद ही साफ कर दिया था कि मैं किसी पद के लिए दौड़ में नहीं हूं। आगे का फैसला हाईकमान का होगा। 

गुजरात: विजय रुपाणी 26 को लेंगे CM पद की शपथ, PM मोदी भी रहेंगे मौजूद

सती बोले, हार के कारण अलग-अलग
शिमला। भाजपा को सरकार में आने की खुशी के बीच कुछ गम भी मिले हैं। सबसे बड़ा दुख सीएम पद के नेता प्रेम कुमार धूमल के हारने का है और वे खुद भी चुनाव हार गए।  शिमला में पत्रकार वार्ता के दौरान भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतपाल सत्ती ने कहा हार में किसी ने भितरघात नहीं किया है और जो हारे हैं, शायद यह भगवान को यही मंजूर था। उन्होंने कहा कि सभी कार्यकर्ताओं ने दिन-रात मेहनत की थी और उसके कारण ही इतनी सीटें जीती। हार के कई कारण हैं और हर हलके में अलग-अलग कारण हैं। उन्होंने कहा कि जहां तक कांग्रेस की हार का सवाल है तो हिमाचल की जनता ने कांग्रेस और उसके अहंकार कर हराया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Himachal Pradesh: BJP may announce CM on Sunday