DA Image
24 जनवरी, 2020|2:00|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सर्दियों में अचानक खराब हो जाता है आपका मूड, तो कहीं आपको ‘अफेक्टिव डिसऑर्डर’ तो नहीं! : ऐसे करें पहचान

health

क्या बिना किसी वजह के आप उदास हो जाते हैं? या आपको सबकुछ बोझिल लगने लगता है, तो आपको सर्दियों के मौसम में होने वाली एक बीमारी से पीड़ित हो सकते हैं। अफेक्टिव डिसऑर्डर (SAD) है। इस डिसऑर्डर के कारण नवंबर से मूड अचानक खराब रहना शुरू हो जाता है और यह मार्च ऐंड या अप्रेल तक जाकर ही ठीक होता है। यह बात अजीब जरूर लग सकती है लेकिन जो लोग इस डिसऑर्डर से परेशान रहते हैं, वे जरूर इसकी परेशानी को समझते हैं।


इस डिसऑर्डर को ‘विंटर डिप्रेशन’ के नाम से भी जाना जाता है। इसके चलते अक्सर थकान फील होती है और दिमाग पर एक अनजाना-सा दबाव हर समय बना रहता है। लेकिन इससे परेशान लोगों को इस समस्या को केवल विंटर ब्लूज समझकर नहीं छोड़ना चाहिए। क्योंकि लगातार अनदेखा किया जाने के बाद यह समस्या गंभीर डिप्रेशन का रूप ले सकती है और आपको लंबे इलाज की जरूरत पड़ सकती है।


ऑरेगन हेल्थ ऐंड साइंस यूनिवर्सिटी में हुए शोध के अनुसार, केवल मेलाटॉनिन ही इस समस्या से निजात दिला सकता है। यह रिसर्च हाल ही नेशनल अकेडमी ऑफ साइंसेज में प्रकाशित हुई। इसमें एक्सपर्ट की तरफ से कहा गया है कि मूड पर मौसम के असर का एक बड़ा कारण धूप है। अध्ययन बताते हैं कि धूप अक्सर मूड को बेहतर बनाने, थकान को कम करने और नकारात्मक विचारों को मिटाने में मदद कर सकती है जबकि सर्दियों में तेज धूप कम मिल पाने के कारण मूड पर नकारात्मक असर में बढ़ोतरी देखने को मिलती है।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:winter seasonal affirmative disorder know how to identify