DA Image
24 जनवरी, 2020|1:38|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बच्चों को 5 साल के अंदर जरुर लगवाएं ये टीके, बढ़े होने पर रोग प्रतिरोधक क्षमता होगी मजबूत और नहीं पड़ेंगे बार-बार बीमार

children


बढ़ते प्रदूषण और पर्यावरणीय खतरों की वजह से बच्चों में रोग प्रतिरोधक क्षमता का मजबूत होना बहुत जरुरी है, ऐसे में बच्चों को कुछ वैक्सीनेशन कराने अनिवार्य हैं, जिनसे उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत हो सके. आइए, जानते हैं कि पांच साल तक बच्चों को कौन-से टीके लगवाने चाहिए।

 

ये टीके हैं बेहद जरूरी
-गर्भवती महिला एंव गर्भ मे पल रहे शिशु को टिटेनस की बीमारी से बचाने के लियेटिटेनसटाक्साइड 1 / बूस्टर टीका और दूसरा टीका एक महिने के अंतर में लगवाएं। अगर पिछले तीन वर्ष मे दो टीके लगे हों तो केवल एक टीका लगवा लेना ही काफी होता है।


-हेपेटाइटिस बी वायरस के संक्रमण से लीवर की सूजन आ जाती है, पीलिया हो जाता है और लंबे समय तक संक्रमण के बाद लीवर कैंसर का भी खतरा हो सकता है। यह टीका बेहद जरूरी है जो हिपेटाइटिस बी के संक्रमण से बचाव करता है।


-डीपीटी टीकों की एक श्रेणी होती है, जो इंसानो को होने वाले तीन संक्रामक बीमारियों डिफ्थीरिया, पर्टुसिस (काली खांसी) और टिटनेस से बचाव के लिए दिए जाते हैं।


-पोलियो का टीका पोलियो नामक बीमारी जिसमें बच्चे अपंग हो जाते हैं, से सुरक्षा प्रदान करता है। यह  टीका भी बच्चों को जरूर लगवाना चाहिए।


-बच्चे को टीबी से बचाने के लिए अनिवार्य रूप से बी सी जी का टीका लगवा दें। बीसीजी का टीका लग जाने पर शिशु को टीबी की बीमारी से बचाया जा सकता है।


हिब वेक्सीन का टीका बच्चों को डिफ्थीरिया, काली खांसी, टेटनस, हेपेटाइटिस-बी और एच इन्फलांजी-बी से सुरक्षित रखता है। हिब बेक्टीरिया के संक्रमण से न्यूमोनिया एवं मष्तिष्क ज्वर (मेनिनजाइटिस) जैसी गंभीर बीमारी हो सकती हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:these are the major vaccines for children within five years