DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   रोज के खाने में यूं शामिल करें पोषण और रहें फिट
अनोखी

रोज के खाने में यूं शामिल करें पोषण और रहें फिट

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्ली Published By: Aparajita
Sun, 06 May 2018 01:43 PM
रोज के खाने में यूं शामिल करें पोषण और रहें फिट

आज का समय ऐसा है, जब ‘क्या खाना है’ से ज्यादा ‘क्या नहीं खाना है’ पर ध्यान देने की जरूरत है। संतुलित आहार का चार्ट कुछ ऐसी ही जानकारी देकर जिंदगी को स्वस्थ बनाने की राह आसान कर देता है। एक आहार विशेषज्ञ के  बताए हुए डाइट चार्ट में उन सारे पोषक तत्वों को खाने की सलाह दी जाती है, जो आपके शरीर को मजबूत और स्वस्थ रखने में पूरी मदद करते हैं।  कानपुर यूनिवर्सिटी के इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ साइंसेज में असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. भारती दीक्षित कहती हैं, ‘डाइट चार्ट हमेशा इस अंदाज में बना होना चाहिए कि उसमें कैलरी खर्च होने के अनुपात को भी ध्यान में रखा गया हो। खाने के कई सारे समूहों होते हैं, चार्ट ऐसे बनाया जाना चाहिए कि इन समूहों में मौजूद विविधता का भरपूर इस्तेमाल हो सके। और परिणामस्वरूप संतुलित आहार से शरीर के ऊतकों, मांसपेशियों और  बाकी सारे अंगों को सही तरीके से पोषण मिलता रहे।

3 घंटे का नियम रखें याद
वैसे तो डाइटीशियन बैलेंस डाइट चार्ट बनाते समय क्या कब खाना है, भी बता देते हैं पर फिर भी इस चार्ट का असर अच्छा हो, इसके लिए जरूरी है कि खाना खाने के सही समय का ध्यान भी रखा जाए। इसके लिए आपको दिनभर में ब्रेकफास्ट, लंच और डिनर वाले तीन आहार नहीं, बल्कि पूरे 5 आहार का सेवन करना होगा। इन सबके बीच कम से कम 3 घंटे के अंतराल की बात भी पक्की करनी होगी। तीन घंटे से ज्यादा का अंतराल शरीर पर गलत असर डालता है। दरअसल 3 घंटे से ज्यादा का समय शरीर में तनाव बढ़ाने वाले हार्मोन यानी कोर्टिसॉल को बढ़ा देता है। जिसकी वजह से पेट पर वसा की परतें बढ़ती हंै। समय का ध्यान रख कर खाया जाए तो मोटापा निश्चित ही कम होता है।

बढ़ाएं सक्रियता
आप बैलेंस डाइट चार्ट का पूरा पालन कर रही हैं। पर असर नहीं हो रहा है। आप अभी भी उतना ही अस्वस्थ महसूस करती हैं। तो जरा अपनी जीवनशैली पर ध्यान दें। फिर देखिए आप दिनभर में कितना सक्रिय रहने लगेंगी। व्यायाम न सही, पर आप अपने खुद के कामों के लिए ही बार-बार उठें, बैठें, चलें। अगर ऐसा नहीं करती हैं तो अपनी दिनचर्या में कुछ चीजों को शामिल कर लीजिए। जैसे, अपने काम खुद ही कीजिए। भले ही सिर्फ पानी पीने के लिए किचन तक जाने की बात हो या अपने कपड़े हैंगर में टांगने हों, ऐसे काम करती रहें और सक्रिय रहें।

किसमें कौन सा पोषक तत्व है, जानिए
भले ही  डाइटीशियन  ने आपके लिए डाइट चार्ट बनाया हो पर ऐसा तो है नहीं कि आप उसमें लिखी चीजों के अलावा कुछ खाएंगी नहीं। इसलिए जरूरी है कि आपके पास ऐसे खाद्य पदार्थों की सूची हो, जिसमें वे पोषक तत्व सबसे ज्यादा हों, जिन्हें आपके लिए जरूरी बताया गया है। जो आप रोज के खाने की सूची में शामिल भले ना करें, पर कभी-कभी खाने में उसे शामिल कर सकें। मान लीजिए कि आपके लिए प्रोटीन फायदेमंद बताया गया है तो दूध के अलावा, पनीर, अंडे, टोफू, सोयाबीन का दूध, सोयाबीन की बड़ियां वगैरह का विकल्प आप अपने लिए तैयार रख सकती हैं। आपको आवश्यक पोषक तत्व किन-किन चीजों में मिलेंगे, आपको पता होना चाहिए या डायटिशियन से पूछ सकती हैं।

प्रोसेस्ड फूड को कहिए अलविदा
प्रोसेस्ड फूड जैसे चिप्स, जूस आदि को जिंदगी से निकालिए। इनकी जगह फलों को दीजिए। इनको खाने के लिए किचन का रास्ता भी नहीं तय करना होता है। कहीं बाहर होने पर भी फल आसानी से साथ ले जा सकती हैं। 
 

संबंधित खबरें