DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खोज: वैज्ञानिकों ने बनाई नई दवाई, जड़ से खत्म कर देगी मलेरिया

malaria medicine

वैज्ञानिकों ने मलेरिया के इलाज के लिए बेहद सुरक्षित और सबसे असरदार दवाई ढूंढ ली है। यह दवाई दो ड्रग से मिलकर बनी है और वैज्ञानिकों ने इंसानों पर इसका सफल परीक्षण भी कर लिया है।

टेस्ट में पास हुई दवाई
जर्मनी के टूबिगेन इंस्टिट्यूट ऑफ ट्रॉपिकस मेडिसन और एक अन्य दवाई निर्माता कंपनी ने मिलकर मलेरिया को पूरी तरह ठीक करने वाली दवाई तैयार की है। यह 'Fosmidomycin' और 'Piperaquine' नाम के दो ड्रग को मिलाकर बनाई गई है। वैज्ञानिकों ने इस दवाई के सफल टेस्ट में पाया है कि यह असरदार है, शरीर इसे झेल सकता है और साथ ही ये पूरी तरह सुरक्षित भी है। इस दवाई को एक से 30 साल के मलेरिया से ग्रस्त लोगों पर तीन दिन के लिए आजमाया गया। इस टेस्ट में सामने आया कि इन लोगों में से 83 गंभीर मरीजों पर दवाई का 100 प्रतिशत असर हुआ है।

इस तरह काम करती है दवाई 
शोध से जुड़े हुए एक वैज्ञानिक पीटर क्रेम्सनर ने कहा, 'यह अध्ययन क्लिनिकल शोध के क्षेत्र में एक बेहद अहम योगदान है।' बता दें कि दो दवाईयों का ये मिश्रण शरीर में मौजूद मलेरिया के किटाणुओं को बढ़ने से रोकता है। इसके साथ ही इंसानी शरीर इस ड्रग को आसानी से झेल लेता है और इसका कोई साइड इफेक्ट भी नहीं होता है।'

मलेरिया होने से बचाता है टूथपेस्ट

WHO के मानकों पर खरी उतरी
यह नई विश्व स्वास्थ्य संस्थान (डब्लूएचओ) के सभी मानकों पर एकदम खरी उतरी है। इसमें मौजूद दो तरह के ड्रग अलग-अलग रूप से खून में मौजूद मलेरिया के पैरासाइट का खात्मा करते हैं। मतलब ये कि यह दवाई डब्लूएचओ के तेज और असरदार तरीके से बीमारी को खत्म करने और उसके वापस ने होने के मानकों पर सफल साबित हुई है। शोधकर्ताओं का कहना है कि फिलहाल इसे लोगों के लिए उपयुक्त बनाने के लिए कुछ और अध्ययन बाकी हैं।

रक्षक से भक्षक बनी दवाई, मरीज ने कहा,'लगता है बदन पर कोई रेंग रहा है'!

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:scientists successfully tested new medicine to cure malaria