DA Image
23 अगस्त, 2020|2:38|IST

अगली स्टोरी

शोधकर्ताओं ने ओडिशा में कोविड-19 स्ट्रेन के 73 नए स्वरूपों की पहचान की

covid-19

जीनोम का अध्ययन करने वाले विशेषज्ञों की एक टीम ने ओडिशा में कोविड-19 स्ट्रेन के 73 नए स्वरूपों की पहचान की है। सीएसआईआर- जिनोमिकी और समवेत जीव विज्ञान संस्थान (आईजीआईबी), नई दिल्ली तथा चिकित्सा विज्ञान संस्थान (आईएमएस) एवं एसयूएम अस्पताल, भुवनेश्वर के विशेषज्ञों ने इसकी पड़ताल की है । 

प्रमुख अनुसंधानकर्ता और आईएमएस एवं एसयूएम अस्पताल के निदेशक (अनुसंधान) डॉ. जयशंकर दास ने शुक्रवार को बताया, ''अध्ययन टीम ने 752 क्लिनिकल नमूने समेत 1536 नमूनों का अनुक्रमण तैयार किया। भारत में पहली बार वायरस के बी 1.112 और बी1.99 स्वरूप मिले। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस की विस्तृत प्रकृति का पता लग जाए तो मरीजों का उपचार करने और उनके ठीक होने में मदद मिलेगी।

अनुसंधान टीम को वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) की मदद मिली है। 

दास ने सीक्वेंस के संबंध में प्रौद्योगिकी कंपनी इलुमिना की एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि इस नए अध्ययन से भारत ने अनुसंधान की पुष्टि और डाटा को ऑनलाइन तरीके से जारी कर 10 देशों में 12 संगठनों को पीछे छोड़ दिया है।

उन्होंने बताया कि आईएमएस और एसयूएम अस्पताल के अनुसंधानकर्ता भी सीक्वेंस का काम कर रहे हैं और हल्के, मध्यम और गंभीर स्तर के संक्रमण को समझने के लिए 500 वायर जीनोम का विश्लेषण कर रहे हैं। इससे संक्रमण के प्रसार को भी जानने में मदद मिलेगी।

दास ने कहा कि इस अध्ययन से पूर्वी भारत खासकर ओडिशा में वायरस के स्वरूप के असर, नुकसान और प्रसार को समझने में आसानी होगी। उन्होंने कहा कि वैश्विक स्तर पर कोविड-19 के तेजी से हुए प्रसार को देखते हुए इसके निदान के लिए सार्स-कोविड-दो के जीनोम को जानना जरूरी है। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Researchers identify 73 new variants of covid-19 strain in Odisha