मधुमेह के खतरे को 6 गुना बढ़ा देता है जरुरत से ज्यादा मोटापा, शोध में खुलासा - madhumeh ke khatare ko 6 guna badha deta hai jarurat se jyaada motaapa shodh mein khulaasa DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मधुमेह के खतरे को 6 गुना बढ़ा देता है जरुरत से ज्यादा मोटापा, शोध में खुलासा

मोटापे के कारण टाइप-2 मधुमेह और दिल की बीमारियों का खतरा छह गुना बढ़ा जाता है। मोटापा के अलावा जेनेटिक कारण और खराब जीवनशैली के कारण भी टाइप-2 मधुमेह का खतरा बढ़ जाता है।

एक हालिया शोध में यह जानकारी सामने आई है, जिसे स्पेन के बार्सिलोना में आयोजित यूरोपियन एसोसिएशन ऑफ द डायबिटीज के सलाना बैठक में प्रस्तुत किया गया है। यूनिवर्सिटी ऑफ कोपेनहेगन के नोवो नॉर्डिस्क फाउंडेशन सेंटर फॉर बेसिक मेटाबोलिज्म रिसर्च की हरमीना याकोपोविच और उनके सहकर्मी ने इस शोध को पेश किया था।

खराब जीवनशैली परेशानी का सबब-

 खराब जीवनशैली, मोटापा और आनुवंशिकता टाइप-2 मधुमेह के विकसित होने का अहम कारण हैं। दुनियाभर में यह तेजी से फैल रही एक आम स्वास्थ्य समस्या है।

क्या कहते हैं आंकड़े-

आंकड़ों के अनुसार, अकेले भारत में ही करीब 10 लाख लोग टाइप-2 मधुमेह का शिकार हैं। टाइप-2 मधुमेह को रोकने की वर्तमान रणनीति के में शरीर के वजन को सामान्य रखने और स्वस्थ जीवनशैली पर ध्यान केंद्रित किया जा रहा है। मधुमेह के मरीजों को सबसे बड़ा खतरा बढ़ते वजन के कारण होता है।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:madhumeh ke khatare ko 6 guna badha deta hai jarurat se jyaada motaapa shodh mein khulaasa