DA Image
24 फरवरी, 2020|4:37|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इस विटामिन की कमी से हो सकता है बार-बार माइग्रेन का दर्द

माइग्रेन का दर्द सामान्य सिर दर्द से बिल्कुल अलग होता है। माइ्ग्रेन के दर्द में सिर दर्द के साथ  नाक से खून आना, उल्टी और प्रकाश के प्रति संवेदनशीलता जैसी समस्याएं भी झेलनी पड़ती हैं। ऐसे समय में आपके पास एक ही उपाय होता है कि आप बैठ जाएं और दर्द के खत्म होने का इंतजार करें।

दरअसल माइग्रेन के दर्द के फीछे कई कारण होते हैं, जैसे तनाव, घबराहट, अनिंद्रा। कुछ लोग जहां इसके लिए दवाईयों पर निर्भर करते हैं वहीं कुछ लोग इसके लिए प्राकृतिक उपायों को आजमाते हैं। लेकिन एक अध्ययन सामने आया है जिसमें कहा गया है कि बार-बार माइग्रेन के दर्द का होना विटामिन डी की कमी के कारण भी हो सकता है। यही इसके लिए राइबोफ्लेविन और coenzyme Q10 की कमी भी इसके पीछे प्रमुख कारण हो सकती हैं। 

आपके सिरदर्द की वजह कहीं आपका हेयरस्टाइल तो नहीं! माइग्रेन के शिकार लोग इन बातों पर ध्यान दें

इसके लिए Cincinnati चिल्ड्रन हॉस्पिटल मेडिकल सेंटर के सुजैन हैग्लर ने इस रिसर्च में पाया कि माइग्रेन अटैक को विटामिन डी की कमी से जोड़कर देखा जा सकता है। इसके लिए हैग्लर ने ऐसे टीनएजर्स, बच्चों और बड़ों के डेटाबेस पर रिसर्च की जिन्हें माइग्रेन की समस्या थी। इसमें उन्होंने सभी के विटामिन डी, राइबोफ्लेविन और coenzyme Q10 के ब्लड लेवल भी चेक किए और पाया कि जिसमें माग्रेन की गंभीर समस्या थी उनमें विटामिन डी, राइबोफ्लेविन और coenzyme Q10 की कमी थी। 

थकान रहना, हड्डियों में दर्द, घाव का देर से भरना, बाल झड़ना, लंबी बीमारी, मांसपेशियों में दर्द, तनाव होना भी विटामिन डी की कमी के कारण होते हैं। इससे बचने के लिए रोज कम से कम 20 मिनट धूप जरूर लें। दूध और उससे बने उत्पाद में विटामिन डी पर्याप्त मात्रा में होता है। संतरा खाएं और अंडे को जर्दी के साथ खाने से विटामिन डी की कमी पूरी होती है। मशरूम खाएं। सालमोन और टूना जैसी मछलियों में कैल्शियम के साथ विटामिन डी भी काफी होता है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Lack of this vitamin D can cause repeated migraine pain