DA Image
30 मार्च, 2021|1:32|IST

अगली स्टोरी

Home Remedies : लौंग दांत दर्द में दे आराम, इसके ये फायदे भी जानें

लौंग के हैं औषधीय इस्तेमाल भी
लौंग के हैं औषधीय इस्तेमाल भी

लौंग की हमारे भारतीय मसालों में खास जगह है। इससे खाने को नया स्वाद और खुशबू मिलती है। इतना ही नहीं, लौंग के अनेक औषधीय इस्तेमाल भी हैं। लौंग से अनेक तकलीफों का इलाज कैसे कर सकते हैं, बता रही हैं श्रुति गोयल

कफ से जुड़ी समस्या को करे दूर 
इस मौसम में सूखी खांसी, कफ, गला बैठने, कफ  की वजह से आवाज में विकृति आने, बहुत ज्यादा खांसी से पेट में दर्द आदि की परेशानियां होती हैं। यही नहीं, कफ से जुड़ी ऐसी कई स्वास्थ्य समस्याओं को दूर करने के लिए लौंग बहुत कारगर है। 15-20 ग्राम लौंग को गरम तवे पर भून लें और फिर उन्हें ठंडा कर लें। इन्हें एक शीशी में भरकर रख लें। इस प्रकार से भुनी हुई लौंग को मुंह में रखकर चूसते रहें। इस तरह एक दिन में तीन से चार लौंग का सेवन करने से ऐसी तकलीफों में फौरन आराम मिलता है।  

इसे भी पढ़ें : बेली फैट और उम्र का असर कम करने के लिए रोज खाएं ये 7 आयुर्वेदिक सुपरफूड

दांत दर्द दूर करे
दांत दर्द दूर करे

दांत दर्द में सबसे आसान व असरदार तरीका लौंग और उसका तेल है। लौंग दांत दर्द व मसूढ़ों की सूजन को कम करती है। इसके उपयोग से जल्दी से आराम मिलता है, साथ ही यह संक्रमण को फैलने से भी  रोकती है। लौंग दांतों और मसूड़ों पर एंटीसेप्टिक का काम भी करती है। इसके लिए रुई का एक फाहा लें, उसमें 4 - 5  बूंदें लौंग के तेल की डाल लें। उसे दांत में दर्द वाले स्थान पर लगाएं। दूसरा उपाय यह है कि दो लौंग के पाउडर में आधा छोटा चम्मच ऑलिव ऑयल मिलाकर उसे दर्द वाले स्थान पर लगाएं। काफी लाभ होगा।

पाचन सही रखे
लौंग पाचन सही रखने में सहायक है। लौंग से पेट दर्द, गैस, उल्टी, मरोड़, डायरिया की शिकायत दूर होती है। हाजमा दुरुस्त रखने के लिए खाना खाने के बाद लौंग का सेवन कर सकते हैं या इसे मसाले के रूप में उपयोग में ला सकते हैं।

इसे भी पढ़ें : सकारात्मक सोचें और सेहतमंद रहें, ऐसे पाएं नकारात्मक ऊर्जा और नकारात्मक भावनाओं पर जीत

जुकाम ठीक करे
जुकाम ठीक करे

लौंग के प्रयोग से साधारण सी सर्दी, जुकाम,  वायरल,  गले में संक्रमण,  सांस की परेशानी ठीक हो जाती है। सर्दी होने पर लौंग वाली चाय रोज दिन में दो-तीन बार पिएं। इसके लिए एक कप चाय के पानी में एक लौंग डाल सकते हैं। इससे आपके शरीर पर ठंड का असर कम होगा, कफ कम हो जाएगा और सर्दी से होने वाली परेशानियों में भी आराम मिलेगा। संभव हो सके तो रोज दिन में 2-3 लौंग चबाएं, इससे  सर्दी से बचना आसान होगा।

मुंह की दुर्गंध दूर करे
सांसों से आने वाली बदबू को लौंग के प्रयोग से दूर किया जा सकता है। इसके लिए एक या दो लौंग को मुंह में रखकर लगभग 15 -20 मिनट चबाएं,  दुर्गंध गायब हो जाएगी। लौंग को पानी में उबालकर ठंडा कर लें। अब इस पानी से दिन में दो-तीन बार कुल्ला करें। इससे भी मुंह की दुर्गंध दूर हो जाएगी। किसी भी तकलीफ में लौंग का इस्तेमाल करने से पहले विशेषज्ञ से सलाह अवश्य लें। 

इसे भी पढें : कम न हो जाए आंखों की रोशनी, अपनी आंखों का ऐसे रखें ध्यान

दर्द में फायदेमंद
दर्द में फायदेमंद

लौंग के तेल में थोड़ा-सा ऑलिव ऑयल मिलाकर दर्द वाली जगह पर मसाज करें। ऐसा दिन में कई बार करें। एक-दो दिन में आराम मिल जाएगा। 

2-3 लौंगों को सेक कर इन्हें एक साफ कपड़े में बांध लें। अब इस कपड़े से दर्द वाली जगह की सिकाई करें।

मांसपेशियों में सूजन, अंदरूनी चोट या घाव में राहत के लिए 100 मिलीलीटर सरसों या तिल के तेल को हल्की आंच पर गरम करें। फिर उसमें 5 से 7 लौंग हल्का कूटकर डालें। अब इसे 3-4 मिनट तक पकाएं और फिर इसे छान  कर रख लें। दिन में दो बार यह तेल सूजन या अंदरूनी घाव या चोट वाली जगह पर लगाएं। 1-2 बार में ही आराम मिल जाएगा और सूजन भी जल्दी ही ठीक हो जाएगी।

ध्यान दें
लौंग की तासीर गरम होती है, इसलिए जिन्हें गरम तासीर वाली चीजों से परेशानी होती हो, उन्हें लौंग का सेवन विशेषज्ञ से परामर्श लेकर ही करना चाहिए।

(आयुर्वेदिक चिकित्सक डॉ. विपिन कुमार से की गई बातचीत पर आधारित)

इसे भी पढ़ें : Health Tips : महिलाएं अपनी डाइट में जरूर शामिल करें ये 5 चीजें, जानिए इसकी वजह