DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

International Yoga Day 2019: स्मार्टफोन वाले करें ये स्मार्ट योग, नहीं होगा गर्दन व पीठ में दर्द

international yoga day 2019   fix text neck with these yoga asan

क्या आपको मोबाइल फोन की वजह से गर्दन में दर्द रहता है? या फिर सिर में? या कंधों में? हम एडवांस टेक्नोलॉजी के युग में रहते हैं और आज मोबाइल फोन दुनियाभर में सबसे व्यापक तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है। शिक्षा से लेकर स्वास्थय में, निजी संबंधों से लेकर व्यापार तक मोबाइल उपकरणों ने मूलतः पूरे विश्व को बदल दिया है। लेकिन इनके व्यापक उपयोग या दुरूपयोग ने जीवन शैली में विभिन्न खतरों को पैदा किया है। उदाहरण के तौर पर यदि आप यह लेख अपने मोबाइल में पढ़ रहे हैं, आपकी दोनो भुजाएं मुड़ी हुई या झुकी हुई हैं, आपकी पीठ मुड़ी हुई है और गर्दन आगे की तरफ झुकी हुई है। हो सकता है आप अपनी इस स्थिति के प्रति अनजान हों पर यही स्थिति आपके दर्द को बढ़ाने में सहायक है। इस स्थिति को टेक्स्ट नेक कहते हैं। 

सधारण स्थिति में जब मनुष्य के कान कंधों के ठीक ऊपर होते हैं तो सिर का वजन 4.5 किलोग्राम होता है। एक ईंच भी गर्दन को आगे करने पर यह वजन रीढ की हड्डी पर दोगुना पड़ता है। तो यदि आप स्मार्ट फोन को अपनी गोद में रखकर देख रहे होते हैं तो अंदाजन 10 से 14 किलो वनज रीढ की हड्डी पर पड़ता है। रीढ़ की हड्डी पर पड़ता यह निरंतर दबाव बेहद ज़्यादा होता है और आपको असंतुलित करने के लिए काफी है।

International Yoga Day 2019: योग से इस तरह खत्म करें जोड़ों का दर्द

ज़रा रूकिए! यह लेख आपको आपके डिवाइस का उपयोग न करने या फिर आपको हतोत्साहित करने के लिए नहीं है। प्रत्येक व्यक्ति का जीवन इस डिवाइस की वजह से सुगम व सरल बना है। परंतु इस डिवाइस की वजह से शरीर को कोई हानि न पहुंचे उसके लिए कुछ योगा टिप्स ध्यान में रखने ज़रूरी हैं।

पीठ व गर्दन की मजबूती और लचक शरीर को अनचाहे तनाव से मुक्त करती है। यहां पर कुछ योगा आसन व व्यायाम बताए जा रहे हैं जो कि आपकी कमर व गर्दन को मजबूती देंगे और लचक प्रदान करेंगे। इन आसनों का निरंतर अभ्यास आपको मोबाइल से पीठ व गर्दन पर पड़ने वाले तनाव से दूर रखेगा और आप अंततः अपने मोबाइल पर प्रेम पूर्वक बाते कर पाऐंगे व किसी को आसानी से मैसेज भेज पाऐंगे।

21 जून को योग दिवस मनाने की ये है वजह, जानिए क्या है इस साल की थीम

- कानों को खींचना और मसाज करना: अपने दोनो कानों को धीरे धीरे ऊपर से नीचे तक हल्का हल्का दबाएं। दोनो कानों को पकड़कर बाहर की तरफ खींचें और धीरे धीरे क्लाक वाइज़ व एंटी क्लाक वाइज़ दिशा में हल्के हल्के घुमाएं। इससे आपके कान के आसपास का तनाव कम होगा और आपको आराम मिलेगा।

- भुजाओं को खींचना: अपनी दोनों भुजाओं को अपने सिर के ऊपर कीजिए और हाथ की हथेलियां आकाश की तरफ रहें। भुजाओं को थोड़ा और ऊपर खींचें। अब अपनी भुजाओं को कंधों के समानांतर फैला लीजिए और हाथ की हथेलियों व उंगलियों को उपर नीचे व दाएं बाएं करें। इससे आपके भुजाओं और कंधे को आराम मिलेगा।

- कंधों को घुमानाः अपने हाथों को कंधों के समानांतर कर लीजिए। अब अंगूठे से छोटी उंगली के निचले भाग को छुएं। अब कंधों को क्लाक वाइज़ व एंटी क्लाक वाइज़ दिशा में घुमाएं।

- हथेलियों को दबानाः हाथ की हथेलियों को अपनी छाती के पास लेकर आएं। कंधों को स्थिर रखते हुए हाथ की हथेली से छाती पर दबाव डालें। अब हाथ को बदल लें और दूसरे हाथ से इस स्थिति को करें।

- कोहनी से आठ बनानाः अपने दोनो हाथों को अपनी छाती के सामने ले आईए। दोनो हाथों को उंगलियों को एक दूसरे से बांध लीजिए। अब दोनो हाथों के कंधों व कोहनियों से आठ की आकृति बनाइए।

- कंधों में खिंचाव लानाः अपने दांए हाथ को अपने सिर पर रखिए और बांएं हाथ से बाएं घुटने को कसकर पकडें। अब दाएं हाथ को सिर के ऊपर से नीचे कूल्हों तक अच्छे से घुमाएं। इसे कई बार करें।

-  अंगूठों को दबानाः अपने दोनो हाथों के अंगूठे को छाती के बिलकुल सामने लेकर आएं। अब उन्हें दोनों दिशाओं में कई बार घुमाएं। दोनो हाथों की अंगुलियों को दबाएं और छोड़ें, इस प्रक्रिया को कई बार करें।

हांलाकि दर्द को दूर करने के लिए उपर दिए योगाभ्यास काफी है परंतु नीचे दी गई बातों को भी अनुभव में लाएं और लाभ लें

डिवाइस की स्थिति को बदलनाः अपने डिवाइस को अपनी गोद में रखकर आगे झुकने की बजाए ऐसी स्थिति बनाएं जो कि प्रकृति अनुसार हो और डिवाइस आंखों के समानांतर हो। 
    
ब्रेक लें: यदि आप पूरे दिन में लंबे समय तक डिवाइस का इस्तेमाल कर रहे हैं तो थोड़े थोड़े अंतराल बाद ब्रेक लें और शरीर व आंखों को आराम दें। इसके साथ साथ ब्रेक के पश्चात आप अपनी स्थिति भी बदल सकते हैं। 

इन साधारण योगा आसनों को करें और स्वयं को विभिन्न खतरों से बचाएं। तभी तो आप स्मार्ट फोन योगी कहला पाएंगे।

यह लेख श्री श्री योगा डायरेक्टर, कमलेश बरवाल की जानकारियों पर आधारित है। वे योगा विशेषज्ञ हैं और पूरे विश्व में घूम घूमकर योगा को विभिन्न संस्कृतियों व धर्मों तक पहुंचा रहे हैं। 

सौजन्य- www.artofliving.org/yoga

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:International Yoga Day 2019: Fix Text Neck with These Yoga asan