DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हिन्दुस्तान तनमन : पूरे परिवार को बीमार कर सकते हैं ये वायरस, क्लिक कर पढ़ें तनमन से जुड़ी अन्य खबरें

top 5 news

सर्दियों के दौरान सांस की तकलीफ, सीने में जकड़न, नाक बंद, जुकाम, छींक, खांसी, सिरदर्द, गले में खराश जैसी समस्याएं फ्लू के वायरस से बढ़ जाती हैं। इसके अलावा ठंड लगने के साथ 100 से 104 डिग्री तक बुखार भी फ्लू के लक्षणों की पहचान है। हर साल अमूमन 10 फीसदी आबादी इस वायरस की चपेट में आ जाती है। यदि किसी साल इसका संक्रमण बढ़ जाता है तो 25 से 30 फीसदी तक लोग इसकी चपेट में आ जाते हैं। 

पूरे परिवार को बीमार कर सकते हैं ये वायरस

अच्छी नींद लेने में हमें अपने सोने के पॉस्चर पर ध्यान रखना पड़ता है। सोने में अगर हमारा पॉस्चर गलत है तो एक तो अच्छी नींद के आवश्यक घंटे पूरे नहीं होते, दूसरे, शरीर के अंगों में दर्द शुरू हो जाता है। यह दर्द लम्बे समय में हमारी मांसपेशियों, नसों और हड्डियों को कमजोर कर उनमें विकृति उत्पन्न कर देता है। सोने के पॉस्चरों की गिनती करना मुश्किल है। कोई करवट के बल सोता है, कोई पीठ के बल सोता है, कोई पेट के बल सोता है।

Health TIPS: ऐसा होना चाहिए सोते समय आपका पॉस्चर, जानें सोने का सही तरीका

अत्यधिक तनाव हमारे शरीर में हार्मोनल असंतुलन उत्पन्न करता है तथा शरीर में विषाक्त रसायनों को बढ़ा देता है। योगासन जैसे सर्वांगासन, शीर्षासन, हलासन, चक्रासन, पादहस्तासन, पाद प्रसार पश्चिमोत्तानासन, त्रिकोणासन, भुजंगासन आदि के अभ्यास से हार्मोनल असंतुलन तथा शरीर के संस्थानों को रोग मुक्त किया जा सकता है। 

अच्छी याददाश्त के लिए रोज करें चक्रासन, पढ़ें चक्रासन की अभ्यास विधि और सीमाएं

गर्दन का काम शरीर के सबसे महत्वपूर्ण अंग ‘सिर’ को सहारा देना है और लचीलापन भी हमारे लिए बहुत जरूरी है। जब गर्दन में दर्द होता है तो हमारे लिए चिंता का विषय बन जाता है। हमारी पूरी दिनचर्या बुरी तरह प्रभावित हो जाती है।

हेल्थ टिप्स: गर्दन में दर्द रहता है तो बदलें कुछ आदतें

आप घूमने-फिरने के शौकीन हैं। जब भी आपका मन करता है, अपने परिवार के साथ छुट्िटयां मनाने खूबसूरत जगहों की सैर पर निकल जाते हैं। वहां जाने के बाद आपकी या फिर आपके परिवार के सदस्यों की तबियत खराब हो जाती है, जिसका कारण खानपान में बरती गयी लापरवाही होती है।

सफर को बनाना है यादगार तो, इस तरह रखिए अपना ध्यान

कुछ बीमारियां ऐसी होती हैं, जिनसे पूरी तरह मुक्ति पाना असंभव सा होता है। ऐसे में उस बीमारी से घबराने की जरूरत नहीं, बल्कि उपाय पर ध्यान देने की जरूरत होती है। आर्थराइटिस-जोड़ों की यह बीमारी पहले उम्रदराज लोगों को होती थी, लेकिन बदली जीवनशैली के कारण इसकी चपेट में युवा भी आ रहे हैं।

आर्थराइटिस हो या अस्थमा, घबराएं नहीं, इन बातों का रखें ध्यान
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:hindustan tanman Flu virus could make whole family ill