Health tips Nobel prize awakened anemia patients expectations - Health tips : नोबल पुरस्कार से जागी एनीमिया के मरीजों की उम्मीदें DA Image
12 नबम्बर, 2019|3:56|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Health tips : नोबल पुरस्कार से जागी एनीमिया के मरीजों की उम्मीदें

anemia

Anemia : वर्ष 2019 के लिए चिकित्सा के क्षेत्र में घोषित नोबल पुरस्कारों ने कैंसर के साथ-साथ एनीमिया के मरीजों के लिए भी उम्मीद की नई किरण जगा दी है। अमेरिका के विलियम जी. कैलिन, ग्रेग एल. सेमेंजा और ब्रिटेन के पीटर जे. रेटक्लिफ ने शोध कर पता लगाया है कि ऑक्सीजन का स्तर सेलुलर मेटाबोलिज्म (कोशिकीय चयापचय) और शारीरिक कार्यों को किस तरह से प्रभावित करता है। साधारण शब्दों में कहा जाए, तो यह जानने के लिए आधार मिलेगा कि मनुष्य की कोशिकाएं ऑक्सीजन का किस तरह से इस्तेमाल करती हैं। इस खोज ने एनीमिया, कैंसर और अन्य कई रोगों से लड़ने के लिए नई रणनीतियों का रास्ता खोला है।

दरअसल, एनीमिया सब देशों, नस्लों में पाई जाने वाली एक सामान्य बीमारी है। 56 प्रतिशत लोग एनीमिया के शिकार होते हैं और उनमें से तकरीबन 47 प्रतिशत मरीज 15 से 19 वर्ष आयु वर्ग के होते हैं। महिलाओं में भी एनीमिया बड़े पैमाने पर मौजूद है।

क्या है एनीमिया

आमतौर पर खून की कमी के तौर पर देखे जाने वाले इस रोग में दरअसल हमारे खून में आयरन की मात्रा कम हो जाती है। खून में आयरन का संतुलन बहुत जरूरी है क्योंकि आयरन का ज्यादा होना भी हमारे डीएनए को प्रभावित कर कैंसर, हृदयरोग और मानसिक रोगों को बुलावा देता है। 

एनीमिया के मुख्य कारणों के बारे में myUpchar.com से जुड़े ऐम्स, दिल्ली के डॉ. नबी दर्या वली का कहना है कि इसके कुछ प्रकार अनुवांशिक होते हैं और कुछ लोग बचपन में ही इसका शिकार हो जाते हैं। गर्भधारण करने योग्य उम्र में महिलाओं को मासिक धर्म और शरीर के लिए जरूरी रक्त की पूर्ति न होने के कारण एनीमिया हो सकता  है। अनुचित आहार और कुछ दूसरी मेडिकल समस्याओं के कारण भी एनीमिया हो सकता है। 

एनीमिया के प्रमुख लक्षण

एनीमिया रोग की पहचान इन लक्षणों को देख कर होती है- बहुत ज्यादा थकान, कमजोरी आना, त्वचा की चमक चले जाना, सीने में दर्द की शिकायत, हाथ-पैर ठंडे पड़ना, जीभ भारी होना, भूख नही लगना, नाखून बार-बार टूटना और बालों का झड़ना।


इन बातों का रखें खयाल

आहार में आयरन, फॉलिक एसिड, विटामिन बी-12, विटामिन सी को संतुलित मात्रा में शामिल करते हुए निम्नलिखित बातों पर भी ध्यान दिए जाने की जरूरत हैः 

चाय-कॉफी का ज्यादा सेवन टालें

भोजन के साथ चाय-कॉफी न लें

भोजन के आधे घंटे बाद पानी पीएं

सॉफ्टड्रिंक पीना टालें

भोजन में प्रोटीन्स को जरूर शामिल करें।


खून की कमी दूर करने के लिए क्या खाएं

डॉ. वली के मुताबिक जिन लोगों के शरीर में खून की कमी है उन्हें भरपूर मात्रा में फल-सब्जियों और सूखे मेवों का सेवन करना चाहिए। पालक, टमाटर, चुकंदर, अनार, सेब, पीनट बटर, शहद, खजूर, सोयाबीन, साबूत अनाज की रोटी, रेड मीट, अंडे, सीफूड आदि को अपने रोजमर्रा के भोजन में शामिल करने से खून की कमी दूर हो सकती है।

आयरन के लिए आहार

आयरन की गोलियां व इन्जेक्शन। हिमोग्लोबिन 8 हो तो इंजेक्शन और 8 से ज्यादा हो तो गोलियां दी जाती हैं। आहार में बीट, खजूर, सोयाबीन, बरबटी, चना दाल, राजमा, मटकी, अनार, सेवफल, किशमिश,पोहे, रागी, चवला फली, धनिया, कढ़ी पत्ता, राई, जीरा, हिंग, हल्दी, अखरोट, बादाम, गुड़, मूंगफली, अंडे का पीला भाग, चिकन, कैटफिश का समावेश करें।

फॉलिक एसिड के लिए

एक दिन में एक औसत व्यक्ति को 400 ग्राम फॉलिक एसिड की जरूरत होती है। यह हमें खट्टे फलों, हरी सब्जियों, बीन्स, मटर, ज्वार, बाजरा, चना दाल, बरबटी, राजमा, सोयाबीन, चवला फली, पत्ता गोभी, मैथी, मूली के पत्तों, सरसों के साग, पालक, भिंडी, शिमला मिर्ची, फुल गोभी, जामफल, आम, पपीता, किसमिस, मूंगफली, अखरोट, पनीर, मावा, अंडा, झिंगा, मछली से मिलता है।


विटामिन बी-12

शरीर में विटामिन बी-12 की कमी हो तो मेगालोब्लास्टिक एनीमिया होता है। यह कमी मछली, मांस, अंडे, दूध, दुग्ध उत्पादों, हरी सब्जियों से दूर की जा सकती है।


विटामिन सी

सभी नींबूवर्गीय फलों जैसे आंवला, जामुन, जाम, करवंद, स्ट्रॉबेरी, बोर, कीवी, हरी मिर्ची, हरी सब्जियों, शिमला मिर्ची, करेले में विटामिन सी होता है। 

इस तरह हमने देखा कि एनीमिया की कमी को बेहतर आहार के साथ दूर किया जा सकता है। साथ ही जो उपाय हैं, वह हमारे दैनंदिन के आहार में बड़ी आसानी के साथ शामिल किए जा सकते हैं। तो शुरू कीजिए कोशिश एनीमिया से मुक्ति पाने की। 


अधिक जानकारी के लिए देखेंः https://www.myupchar.com/disease/anemia

स्वास्थ्य आलेख www.myUpchar.com द्वारा लिखे गए हैं। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Health tips Nobel prize awakened anemia patients expectations