DA Image
8 अप्रैल, 2020|9:19|IST

अगली स्टोरी

30 की उम्र पार करने के बाद इस तरह रखें अपनी सेहत का ख्याल

fruit

उम्र के हिसाब से व्यक्ति को अपना ध्यान रखने की जरूरत होती है। जब महिलाएं 30 साल की उम्र तक पहुंचती हैं तो शरीर में कई बदलाव होते हैं। भले ही इस उम्र में पहुंचने पर ये बदलाव दिखे नहीं, लेकिन इस उम्र के पार होने पर जीवन को स्वस्थ और खुशहाल बनाने के लिए सेहत का ख्याल विशेष रूप से रखना होता है। www.myupchar.com से जुड़े डॉ. विशाल मकवाना का कहना है कि अगर कोई महिला मीटिंग के लिए नाश्ता करना छोड़ देती हैं, यदि उनका दोपहर का भोजन कार्ब्स, प्रोटीन और वसा से भरपूर नहीं है, तो 30 साल की उम्र के बाद ये छोटी बातें बड़ी चिंता का कारण बन सकती हैं। इसलिए 30 की उम्र के बाद कुछ बातों का महिलाओं को विशेष ध्यान रखना चाहिए।


सबसे पहले तो खानपान स्वस्थ होना चाहिए। www.myupchar.com से जुड़े डॉ.लक्ष्मीदत्ता शुक्ला का कहना है कि मेटाबॉलिज्म एक प्रक्रिया है जिसके जरिए शरीर भोजन को ऊर्जा में बदलता है। जितनी तेज मेटाबॉलिज्म की दर रहेगी, उतना ही अधिक ऊर्जावान और सक्रिय रहेंगे। मेटबॉलिज्म बढ़ाने के लिए अच्छे पोषक तत्वों का सेवन करना चाहिए, क्योंकि 30 के पार होते ही इसके दर में कमी होने लगती है। इसका दर कम होने पर वजन बढ़ने की भी शिकायत होती है। इसलिए मेटाबॉलिज्म की दर को बढ़ाने के लिए प्रोटीन ज्यादा लें, कार्बोहाइड्रेट और वसा जरूर लें। इसलिए दिन का सबसे बड़ा भोजन नाश्ता होना चाहिए, जिसमें ये तीनों पोषक तत्व हों। वहीं रात का खाना हल्का होना चाहिए। फाइबर का सेवन उन्हें वजन घटाने में मदद करेगा।


30 की उम्र में पहुंचने पर हार्मोन के काम में काफी बदलाव आता है। थायराइड डिसफंक्शन के जोखिम की जांच के लिए आयोडीन के स्तर पर नियमित नजर रखना जरूरी होता है। महिलाओं को आयरन से भरपूर खाद्य पदार्थ जैसे मटर, कद्दू के बीज, हरी सब्जियां, किशमिश आदि लें। महिलाओं को हड्डियों के लिए विटामिन डी के साथ कैल्शियम का सेवन जरूर करना चाहि। जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है एस्ट्रोजन का स्तर घटता है जो कि हड्डी के घनत्व को प्रभावित करता है। दूध, दही, पनीर, ब्रोकली, बादाम आदि का सेवन करें।


स्वस्थ आहार के अलावा 30 की उम्र में पहुंचने पर महिलाओं को अपने मानसिक स्वास्थ्य का विशेष ख्याल रखने की जरूरत होती है। इस उम्र में तनाव आम है, लेकिन जरूरत से ज्यादा तनाव मानसिक स्वास्थ्य पर दुष्प्रभाव डालेगा और इससे कई बीमारियां घेरेंगी। तनाव से बचने के लिए अपनी दिनचर्या में संतुलन बनाएं। प्राथमिकता के अनुसार काम की सूची बना लेंगी तो काम आसान होंगे। काम अपनी जगह है, लेकिन परिवार, दोस्तों के लिए भी समय निकालें। खुद की सेहत के लिए रोजाना कम से कम 30 मिनट व्यायाम करें। वह काम करें जो आपको खुश करते हैं। पढ़ना पसंद है तो किताब पढ़ें, कुछ नया सीखने का मन हो तो इसे जरूर करें। इससे रचनात्मकता बढ़ेगी और दिमाग की सेहत के लिए भी अच्छा रहेगा।


30 साल की उम्र पार करने के बाद नियमित मेडिकल चेकअप करवाएं। इसके जरिए यह जानना जरूरी है कि अंग कितनी अच्छी तरीके से काम कर रहे हैं और देखभाल के लिए और क्या जरूरत है। कई बीमारियों जैसे कैंसर, हृदय रोग, गठिया के कोई लक्षण जल्द दिखाई नहीं देते। समय से पहले किसी रोग का पता चल जाए तो उचित इलाज के जरिए छुटकारा पाया जा सकता है।

अधिक जानकारी के लिए देखें: https://www.myupchar.com/disease/dizzinesss/home-remedies

myUpchar.com द्वारा लिखे गए हैं, जो सेहत संबंधी भरोसेमंद जानकारी प्रदान करने वाला देश का सबसे बड़ा स्रोत है।

 

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Health tips for women over 30 Years