DA Image
6 अगस्त, 2020|12:48|IST

अगली स्टोरी

Covid-19:कोरोनावायरस को फैलने से रोकने वाले अणुओं की हुई पहचान

ayodhya  corona  infected

शोधकर्ताओं ने अणुओं की एक शृंखला की खोज की है जो संभावित तौर पर उस प्रोटीन को खत्म कर सकता है जिससे जुड़कर कोरोनावायरस शरीर में फैलता है। इन अणुओं की पहचान से कोविड-19 के इलाज के लिए नई दवा बनाने में मदद मिलेगी। अमेरिका की कोलंबिया यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों के अनुसार सार्स-कोव-2 वायरस पॉलीमरेज नामक एक प्रोटीन से जुड़कर तेजी से खुद की नकल बनाता है और पूरे शरीर में फैल जाता है। 

वैज्ञानिकों ने कहा कि शरीर से पॉलीमरेज की प्रतिक्रिया को बंद कर देने से कोरोनावायरस का शरीर में फैलाव रुक सकता है। ऐसी परिस्थिति में शरीर का प्रतिरक्षा तंत्र सक्रिय हो जाता है और कोरोनावायरस को मार डालता है। इस शोध को पत्रिका एंटीवायरस रिसर्च में प्रकाशित किया गया है। इस शोध में कई ऐसे संभावित अणुओं के बारे में बताया गया है कि जो पॉलीमरेज प्रतिक्रिया को ब्लॉक कर सकते हैं। अब वैज्ञानिक इस प्रोटीन को खत्म करने के लिए दवा बनाने की कवायद कर रहे हैं। 

कुछ इलाजों में होता है इस्तेमाल-
वैज्ञानिकों द्वारा खोजे गए अणुओं में से कुछ अणुओं का इस्तेमाल पहले ही कई वायरल संक्रमण के इलाज में किया जा रहा है। वैज्ञानिकों ने कहा कि कुछ अणु एचआईवी और हेपाटाइटिस बी के इलाज में प्रयोग किए जा रहे हैं। एक पूर्व शोध में वैज्ञानिकों ने पाया कि सोफोसबुवीर में मौजूद ट्राइफोसफेट नामक अणु पॉलीमरेज प्रतिक्रिया को बंद करने में कारगर साबित हुए। 

सोफोसबुवीर समेत चार अणु पॉलीमरेज चेन प्रतिक्रियाओं को तोड़ने में सफल साबित हुए हैं। छह और ऐसे ही और अणुओं की खोज की गई है। शोधकर्ताओं ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि इस अणुओं की मदद से कोविड-19 के इलाज के लिए कारगर दवा बनाई जा सकेगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Covid-19: Identification of molecules that prevent coronavirus from spreading