DA Image
15 अगस्त, 2020|10:28|IST

अगली स्टोरी

कोरोना वायरस के खिलाफ प्रतिरोधक क्षमता विकसित करने में मददगार कोशिकाओं की हुई पहचान

coronavirus

एक नए अध्ययन में पता चला है कि नोवेल कोरोना वायरस संक्रमण के चलते सांस लेने में तकलीफ के लक्षणों से जूझ रहे रोगी वायरस पर हमला करने वाली टी कोशिकाओं के रूप में तेजी से रोग प्रतिरोधिक क्षमता विकसित कर सकते हैं। इस अध्ययन से कोविड-19 का टीका बनाने में मदद मिल सकती है।
    
'साइंस इम्यूनोलॉजी पत्रिका में प्रकाशित इस अध्ययन में कोविड-19 के दस रोगियों की टी कोशिकाओं का मूल्यांकन किया गया। इस अनुसंधान में कई अनुसंधानकर्ताओं ने हिस्सा लिया, जिनमें अमेरिका के कैलफोर्निया विश्वविद्यालय के अनुसंधानकर्ता भी शामिल हैं।
     
उन्होंने कहा कि 10 में से दो स्वस्थ लोग, जो इससे पहले संक्रमण की चपेट में नहीं आए थे, उन्होंने भी सार्स-कोव-2 के खिलाफ टी कोशिकाएं विकसित कर लीं। इस अवलोकन के आधार पर, उन्होंने कहा कि हो सकता है कि ये टी कोशिकाएं नोवेल कोरोनोवायरस, सार्स-कोव-2 के खिलाफ इसलिये प्रतिक्रिया देती हैं, क्योंकि वे लोग अतीत में कभी कोरोना वायरस से संबंधित संक्रमण की चपेट में आए होंगे, जिनमें जुकाम जैसे लक्षण आम बात हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:covid-19: doctors Identified cells helpful in developing immunity against corona virus