DA Image
9 अगस्त, 2020|11:52|IST

अगली स्टोरी

कोरोना संग डेंगू के प्रकोप से बढ़ेंगी मुश्किलें

 dengue  deceased  brothers

मानसून के आगमन के साथ ही देश के बड़े हिस्से में डेंगू फैलने की आशंका बढ़ गई है। डेंगू और कोरोना मरीजों के समान लक्षण के मद्देनजर वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी है कि दोहरी चुनौती से समस्याएं बढ़ सकती हैं। विशेषज्ञों ने चिंता जताई है कि इस दोहरी चुनौती से निपटने में देश का स्वास्थ्य ढांचा सक्षम नहीं होगा। 

विषाणु विज्ञानी शाहिद जमील ने 2016-19 के डाटा के आधार पर अनुमान लगाया है कि भारत में हर साल डेंगू के करीब एक से दो लाख मामले सामने आते हैं। नेशनल वेक्टर बोर्न डिजिट कंट्रोल प्रोगाम के मुताबिक, 2019 में जांच में डेंगू के 1,36,422 मामले सामने आए थे और करीब 132 लोगों की मौत हुई थी।  सीएसआईआर-आईआईसीबी की विषाणु विज्ञानी उपासना राय ने कहा कि डेंगू का मौसम शुरू होने के बाद संक्रमण तेजी से फैलेगा। 

समान लक्षण: 
दोनों रोगों में तेज बुखार, सिरदर्द और शरीर में दर्द के लक्षण होते हैं। ऐस में यह पता लगाना खासा मुश्किल काम होगा कि कोई मरीज कोरोना से पीड़ित है या कोरोना से। इन दोनों रोगों के लिए अलग-अलग जांच की जरूरत होती है। 
  
दोनों वायरस एक दूसरे के सहायक: 
कोलकाता स्थित एमिटी विश्वविद्यालय के कुलपति एवं विषाणु विज्ञानी धुव्रज्योति चटोपाध्याय ने चेतावनी दी कि डेंगू का प्रकोप बढ़ने से कोविड-19 संकट गहरा सकता है क्योंकि दोनों वायरस एक दूसरे के लिये सहायक साबित हो सकते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि इस स्थिति का अब तक अध्ययन नहीं किया गया है। 

लेकिन दक्षिण अमेरिका से उपलब्ध सूचना खतरनाक स्थिति की ओर संकेत करती है। एक ही समय पर दोनों संक्रमण होना कहीं अधिक घातक होगा। कमजोर हो चुकी प्रतिरक्षा प्रणाली दूसरे विषाणु को कहीं अधिक घातक बना देगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:covid-19: Dengue outbreak with Corona will increase problems