DA Image
7 अक्तूबर, 2020|8:24|IST

अगली स्टोरी

Covid-19: कोरोना जांच रिपोर्ट मिलने से पहले ही स्वस्थ हो रहे हैं संक्रमित

coronavirus

जिले में ऐसे मामले सामने आ रहे हैं की जांच रिपोर्ट आने से पहले ही लोग को कोरोना से स्वस्थ हो गए हैं। नोएडा की जिम्स लैब में 2390 और एमएमजी की लैब में 851 मरीजों की जांच रिपोर्ट लंबित है। संदिग्ध मरीजों को सैंपल के आठ से नौ दिन बाद उनकी रिपोर्ट मिल रही है।

जिले में प्रतिदिन 2500 से 3000 लोगों की कोरोना जांच हो रही है। इनमें 1200 से 1500 जांच आरटी-पीसीआर हो रही हैं। एंटीजन किट के जरिए होने वाली जांच की रिपोर्ट भी एक से दो दिन में मिल रही है। जबकि आरटी-पीसीआर जांच रिपोर्ट मिलने में आठ से नौ दिन का समय लग रहा है। 

नहीं शासन की ओर से विशेष दिशा निर्देश हैं कि संक्रमित मरीजों को सैंपल देने के नौ दिन और रिपोर्ट आने के सात दिन तक आइसोलेशन में रखा जाता है। इसके बाद उनको सात दिन का होम क्वारटाइन में रखा जाता है। मरीजों को रिपोर्ट मिलने में ही नौ दिन लग जाते हैं। 

ऐसे में अधिकांश मरीज स्वस्थ भी हो जाते हैं उनका सवाल रहता है कि वह आइसोलेशन में रहेंगे या क्वॉरेंटाइन में। ऐसे में उसे अस्पताल में भर्ती करवाया जाए या होम आइसोलेशन में रखा जाए, इसका निर्णय करना मुश्किल होता है। मरीज की स्थिति देखकर इस संबंध में निर्णय लिया जाता है। कई बार तो लक्षण वाले मरीज निजी डॉक्टर्स के जरिए उपचार भी शुरु कर देते हैं। सीएमओ डॉ. एन के गुप्ता ने बताया कि जांच स्तर बढ़ने के चलते रिपोर्ट प्रभावित हो रही हैं। जल्द इसमे सुधार किया जाएगा। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Covid-19: Corona patients are recovering itself before getting their test reports