DA Image
31 मई, 2020|2:51|IST

अगली स्टोरी

Covid-19:आयुष्मान भारत में 2300 कोरोना रोगियों का नि:शुल्क इलाज

ayushman india

आयुष्मान भारत स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत विभिन्न अस्पतालों में करीब 2300 लोगों ने कोविड-19 का नि:शुल्क इलाज कराया है। जबकि पिछले डेढ़ महीने में तीन हजार से अधिक लोगों ने संक्रमण की जांच कराई है। यह जानकारी गुरुवार को अधिकारियों ने दी।

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (एनएचए) में एक कॉल सेंटर का इस्तेमाल कोविड-19 के सहायता केंद्र के रूप में किया जा रहा है और 600 से 700 एजेंट लोगों के सवालों का जवाब दे रहे हैं। आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना को लागू करने की जिम्मेदारी एनएचए पर है।

एनएचए ने कोरोना वायरस के संभावित खतरे वाले लोगों को फोन कर एहतियातन परामर्श भी दिया है। इन लाभार्थियों में 60 वर्ष से ऊपर के लोग हैं और हाल में उनका पीएमजेएवाई के तहत उपचार हुआ है या ऐसे लोग शामिल हैं जो अन्य बीमारियों से पीड़ित हैं।

एनएचए ने 04 अप्रैल को कहा कि कोविड-19 की जांच और उपचार आयुष्मान भारत के लाभार्थियों को निजी अस्पातालों और पैनल वाले अस्पतालों में उपलब्ध कराया गया। एबी-पीएमजेएवाई और राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिककरण के सीईओ डॉ. इंदुभूषण ने कहा कि सितंबर 2018 में योजना शुरू होने के बाद से देश भर के अस्पतालों में करीब एक करोड़ 42 हजार 416 लोगों ने 13,412 करोड़ रुपये का नि:शुल्क लाभ उठाया।

योजना के तहत एक करोड़ से अधिक इलाज होने का आंकड़ा पूरा होने पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्द्धन ने गुरुवार को आरोग्य धारा के पहले संस्करण का उद्घाटन किया। यह एक वेबिनार की शृंखला है जिसमें जन स्वास्थ्य के मुद्दों पर चर्चा होती है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि इस योजना में गरीबों और कमजोर तबके के लोगों को सस्ती इलाज सुविधा मिल रही है। इसमें प्रति परिवार प्रति वर्ष पांच लाख रुपये का स्वास्थ्य कवर है। स्वास्थ्य मंत्री ने व्हाट्सएप पर 'आस्क आयुष्मान' चैटबोट भी शुरू किया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Covid-19: Ayushman India gives Free treatment to 2300 corona patients