DA Image
6 जुलाई, 2020|10:23|IST

अगली स्टोरी

क्या नीम की पत्तियों से बेअसर होगा कोरोना वायरस? जानें, क्या कहते हैं विशेषज्ञ

नीम खाने के फायदे

आयुर्वेद में नीम का प्रयोग प्राचीन काल से ही औषधि के रूप में किया जा रहा है। नीम कई गुणों से भरपूर है। इससे कई तरह के रोग साधे जा सकते हैं। इतना ही नहीं नीम की पत्तियां मौसमी संक्रमण से भी बचाती है। नीम त्वचा संबंधित सभी बीमारियों को भी दूर करता है। www.myupchar.com से जुड़े डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला के अनुसार, नीम से 40 प्रकार की गंभीर बीमारियों का इलाज किया जा सकता है। नीम खाने से शरीर का खून भी साफ होता है, लेकिन क्या आज दुनियाभर में फैल रही संक्रामक महामारी कोविड-19 के इलाज में नीम एक असरदार औषधि मानी जा सकती है, आइए इस बारे में जानते हैं -
 
कोरोना वायरस के लिए आयुर्वेदिक औषधि नीम पर शोध
www.myupchar.com से जुड़े डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला के अनुसार, नीम का पावडर, नीम का तेल या नीम का पेस्ट बनाकर किसी भी तरह के संक्रमण पर लगा सकते हैं। इसी तर्ज पर कोरोना महामारी के संक्रमण से बचने के लिए आयुर्वेदिक औषधियों पर भी कई तरह के शोध किए जा रहे हैं। इन्हीं में से एक शोध किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी द्वारा नीम पर किया जा रहा है, जिसमें यह जानने की कोशिश की जा रही है कि नीम में मौजूद तत्व कोरोना वायरस पर क्या प्रभाव डालते हैं? आयुर्वेदिक डॉक्टरों के अनुसार, नीम में कई ऐसे गुण मौजूद हैं, जो कोरोना महामारी से बचाव कर सकते हैं।
 
डॉक्टरों ने उम्मीद जताई है कि कोरोना से बचने के लिए बहुत जल्द ही नीम का इस्तेमाल अधिक मात्रा में लोगों के द्वारा किया जाने लगेगा। नीम की पत्ती, छाल, नीम की गोलियां, नीम का तेल और नीम के दातुन का उपयोग संक्रमण रोकने के लिए किया जा सकता है, जिस पर फिलहाल कई प्रयोग चल रहे हैं। किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने नीम पर शोध के लिए खास प्रोजेक्ट तैयार किया है।
 
ये है नीम की खासियत
नीम में तीन कम्पोनेंट्स - हाइप्रोसाइड, मिम्बाफ्लेवोन और रूटीन होते हैं, जिसमें से हाइप्रोसाइड कम्पोनेंट कोरोना वायरस से लड़ने में सबसे अधिक सक्षम माना जा रहा है। जो लोग नीम का अब तक अधिक उपयोग नहीं करते आए हैं, उन्हें नीम का सेवन शुरू कर देना चाहिए, क्योंकि नीम मे एंटीबैक्टीरियल गुण मौजूद होते हैं। नीम से इम्यूनिटी भी बढ़ती है।
 
इम्युनिटी बढ़ाने के लिए रोज पिएं नीम का काढ़ा
इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए नीम का काढ़ा पिया जा सकता है। यह हर प्रकार से शरीर के लिए स्वास्थ्यवर्धक होगा। नीम की पत्ती के सेवन से कैंसर जैसी बीमारियां भी ठीक की जा सकती हैं। कोरोना एक आरएनए वायरस है, जो रिसेप्टर के जरिए इंसानों में प्रवेश करता है। नीम में मौजूद मुख्य तत्व हाइप्रोसाइड शरीर की कोशिकाओं में मौजूद रिसेप्टर को खत्म करने का काम करता है। इससे कोरोना वायरस के फैलने की आशंका कम हो जाएगी। नीम के काढ़े के सेवन से कोरोना वायरस संक्रमण शरीर में फैलने में सक्षम नहीं हो पाएगा, साथ ही स्वस्थ कोशिकाओं पर इसका कोई असर नहीं हो पाएगा।

घर पर ऐसे बनाएं नीम की पत्तियों का काढ़ा
नीम का काढ़ा बनाने के लिए एक कटोरे में दो कप पानी डालकर 15 से 20 नीम की पत्तियां डालकर उबालें, जब तक यह पानी आधा नहीं हो जाता। यह ज्यादा कड़वा होता है इसलिए बेहतर स्वाद के लिए उबालते समय इसमें थोड़ा नमक भी डाल सकते हैं। इस काढ़े को यदि कोरोना संक्रमित व्यक्ति को पिलाया जाए तो उसके जल्दी ही ठीक होने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं, इसके अलावा डायबिटिक मरीज के लिए भी यह एक असरदार औषधि है। आयुर्वेदिक डॉक्टरों के मुताबिक कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति को यदि शुरुआत से ही नीम की पत्तियों का काढ़ा पिलाते हैं, तो बीमारी गंभीर रूप नहीं लेगी।

अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

यह स्वास्थ्य आलेख www.myUpchar.com द्वारा लिखा गया है

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Coronavirus Treatment: Is Neem Can Help You in Fight Against Coronavirus