DA Image
4 जून, 2020|3:56|IST

अगली स्टोरी

रात को ठीक से सो नहीं पाते? ये 5 फूड्स दिला सकते हैं बच्चों जैसी मीठी नींद

sleep

शरीर को स्वस्थ और संतुलित बनाए रखने के लिए नींद बहुत जरूरी है। एक अच्छी और गहरी नींद तनाव से राहत देने और दिनभर की थकान दूर करने में मदद करती है। शारीरिक और मानसिक रूप से आराम देने के लिए नींद की अवधि मायने रखती है। www.myupchar.com से जुड़े एम्स के डॉ. केएम नाधीर का कहना है कि लंबे समय तक ठीक से पूरी नींद न लें तो थकान, दिन में नींद आना, बैचेनी के साथ-साथ अचानक बहुत अधिक वजन घटना या वजन बढ़ने जैसी दिक्कतें हो सकती है। www.myupchar.com  से जुड़े डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला का कहना है कि एक व्यक्ति को 7 से 9 घंटे की नींद लेना जरूरी है, लेकिन कई कारणों से अच्छी नींद नहीं आ पाती है और यह आजकल के समय में एक आम समस्या बन चुकी हैं। लेकिन अच्छी बात यह है कि कुछ ऐसे फूड्स हैं, जिनका सेवन करने से नींद की ये परेशानी दूर होगी। इन प्राकृतिक फूड्स को खाने से अच्छी और गहरी नींद लाने में मदद मिलेगी।
 
केला
केले मैग्नीशियम और पोटेशियम जैसे मांसपेशियों को आराम देने वाले खनिजों का एक पॉवर हाउस हैं। अगर नींद की परेशानी है तो यह इसे दूर करने का बेहतरीन विकल्प है। इसमें भरपूर मात्रा में कार्बोहाइड्रेट्स होते हैं जो कि ट्रिप्टोफैन बनाने में मदद करता है। ट्रिप्टोफैन एक आवश्यक अमीनो एसिड है जो शरीर को कुछ मस्तिष्क को संकेत देने वाले रसायन जैसे सेरोटोनिन बनाने में मदद करता है जो प्रमुख रूप से मूड और नींद को नियंत्रित करता है।
 
बादाम
सोने से ठीक पहले या दिन के किसी भी समय, एक मुट्ठी भर बादाम अच्छी नींद लाने में मदद करता है। बादाम अच्छे फैट, अमीनो एसिड और मैग्नेशियम से भरपूर होते हैं। साथ ही यह महत्वपूर्ण हार्मोन मेलोटोनिन का उत्पादन करने में मदद करने वाले हैं जो बेहतर नींद दिलाते हैं। वे ट्रिप्टोफैन का एक बड़ा स्रोत हैं, जिन्हें मस्तिष्क और तंत्रिकाओं पर अच्छा प्रभाव डालने के लिए पहचाना जाता है।
 
दूध
हल्दी और केसर के साथ गर्म दूध का एक गिलास अच्छी नींद में सहायक है। ट्रिप्टोफैन का एक अन्य ज्ञात स्रोत दूध, नींद को बढ़ावा देने के लिए जाना जाता है और  खासकर तब यदि लो इंटेन्सिटी वर्कआउट जैसे कि चलने और योग से पहले लिया है।
 
ओट्स
यदि हल्का डिनर चाहते हैं जो स्वस्थ हो और नींद के लिए बेहतर विकल्प हो तो ओट्स काम का हो सकता है। सोने से पहले पके हुए ओट्स का एक कटोरा कॉम्प्लेक्स-कार्ब्स में हाई होता है और सोने से पहले खाने पर उनींदापन लाता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि यह मेलेटोनिन का एक प्राकृतिक स्रोत है जो कि नींद लाने वाला हार्मोन है और तनाव से राहत देने वाला विटामिन बी 6 है।
 
शहद
शहद भी ट्रिप्टोफेन के प्रोडक्शन का काम करता है जो अच्छी नींद लाने में मददगार है। शहद एंटी बैक्टीरियल, एंटी फंगल और एंटी ऑक्सीडेंट्स है। नींद नहीं आने या कफ की समस्या को दूर करने में इसलिए भी मदद करता है, क्योंकि इससे बढ़े इंसुलिन से स्त्रावित होने वाला हार्मोन सेरोटोनिन, मेलेटोनिन में बदलता है जो नींद की अवधि और उसकी गुणवत्ता तय करता है।
 
अधिक जानकारी के लिए देखें : https://www.myupchar.com/disease/insomnia
स्वास्थ्य आलेख www.myUpchar.com द्वारा लिखे गए हैं, जो सेहत संबंधी भरोसेमंद जानकारी प्रदान करने वाला देश का सबसे बड़ा स्रोत है। इसे जरूर देखें और वीडियो के लिए सब्सक्राइब करें https://www.youtube.com/c/myUpchar

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Cant sleep well at night These 5 foods can give children sweet sleep