DA Image
28 जनवरी, 2021|9:24|IST

अगली स्टोरी

कुछ मिनटों का व्यायाम मधुमेह का जोखिम कम करे

कुछ मिनटों के व्यायाम से भी मधुमेह के जोखिम को कम कर सकते हैं। वैज्ञानिकों ने अपने एक नए शोध में यह दावा किया है। शोधकर्ताओं का कहना है कि हल्के व्यायाम से भी इन्सुलिन प्रतिरोध को रोका जा सकता है। इससे उच्च वसा वाले आहार से होने वाली टाइप 2 डायबिटीज को नियंत्रित करने में मदद मिलती है। 

रक्त में शर्करा को नियंत्रित करने वाला हार्मोन इंसुलिन को जब शरीर की कोशिकाएं प्रतिक्रिया देना बंद कर देती हैं, तब इंसुलिन प्रतिरोध होता है। व्यायाम शरीर की क्षतिग्रस्त कोशिकाओं को बाहर निकालकर इंसुलिन के प्रतिरोध को रोकता है और कोशिकाओं का पॉवरहाउस माइटोकॉन्ड्रिया की गुणवत्ता को बढ़ाता है। 

पहले हुए अध्ययनों में यह बताया जा चुका है कि माइटोकॉन्ड्रिया की संख्या बढ़ाकर इंसुलिन प्रतिरोध के साथ ही उच्च वसा वाले आहार से होने वाली समस्याओं को ठीक करने में मदद मिलती है। शोधकर्ताओं ने अध्ययन में पाया कि शारीरिक व्यायाम से माइटोकॉन्ड्रिया की संख्या पर कोई असर नहीं पड़ा। प्रमुख शोधकर्ता अरकंसास यूनिवर्सिटी की मेगन रोजा-कैल्डवेल ने शोध में देखा कि आनुवंशिक रूप से माइटोकॉन्ड्रिया की अधिक संख्या वाले चूहों को उच्च वसा वाले आहार से प्रेरित इंसुलिन प्रतिरोध से अधिक संरक्षित नहीं किया गया।

पश्चिम के देशों में उच्च वसा वाला आहार ज्यादा लिया जाता है, इसलिए शोधकर्ताओं ने चूहों को पहले उच्च वसा वाला आहार दिया। इसके बाद चूहों को दो समूहों में बांट दिया। एक समूह को व्यायाम कराया गया और दूसरे को नहीं। शोधकर्ताओं ने देखा कि व्यायाम करने वाले समूह के चूहों के माइटोकॉन्ड्रिया से इंसुलिन के प्रतिरोध को रोकने में मदद मिली। 

इसके बाद शोधकर्ताओं ने कहा कि परिणाम बताते हैं कि उच्च वसा वाले आहार लेने वाले या मोटापे के शिकार लोग अगर व्यायाम करते हैं तो माइटोकॉन्ड्रिया ज्यादा प्रभाव डालता है और इंसुलिन के प्रतिरोध को रोकता है। यहां बता दें कि लंदन में 45 लाख और अमेरिका में लगभग 290 लाख लोग टाइप टू डायबिटीज के शिकार हैं। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:A few minutes of exercise reduce the risk of diabetes