DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   हरियाणा  ›  कमल कलोई ने लंबे समय तक पानी के अंदर योगासन का बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड, गिनीज बुक में नाम दर्ज

हरियाणाकमल कलोई ने लंबे समय तक पानी के अंदर योगासन का बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड, गिनीज बुक में नाम दर्ज

हिसार। वार्ता Published By: Praveen Sharma
Sat, 10 Apr 2021 06:13 PM
कमल कलोई ने लंबे समय तक पानी के अंदर योगासन का बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड, गिनीज बुक में नाम दर्ज

हरियाणा के हिसार जिले के आर्य नगर गांव के कमल कलोई ने पानी के अंदर लंबे समय तक योगासन कर अपना नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज करवाया है। कमल की इस उपलब्धि पर उनके परिजनों और ग्रामीणों में खुशी का माहौल है तथा घर पर बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है।

राजगढ़ रोड स्थित राजकीय महाविद्यालय हिसार में कार्यरत कंप्यूटर साइंस के प्रोफेसर और कमल कलोई के भाई सतेंद्र कलोई ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि कमल कलोई ने पानी में योगासन करके गिनीज बुक में अपना नाम दर्ज करके पूरे गांव, जिला, राज्य औप पूरे देश का पूरे दुनियाभर में रोशन किया है। सतेंद्र ने दावा किया है कि कमल कलोई देश के पहले योगा टीचर हैं जिन्होंने अपना नाम गिनीज बुक में दर्ज करवाया है।

हिसार जिला मुख्यालय के करीब गांव आर्य नगर में जन्मे कमल ने योग का अभ्यास तीसरी कक्षा से ही शुरू कर दिया था। गांव में कोचिंग की सुविधा न होने के बावजूद भी उन्होंने अपना अभ्यास जारी रखा और जिला व राज्य स्तर की प्रतियोगिताओं में भाग लेते रहे और वहीं से अपने अगले लक्ष्य के लिए प्रेरित होते हुए निरंतर मेहनत करते रहे। अपनी शिक्षा पूरी होने के बाद उन्होंने देशभर में अपने योग ज्ञान के माध्यम से समाज कल्याण के लिए लोगों को निरोगी बनाने का निर्णय किया। इसके बाद उनको विदेश जाने का अवसर मिला और आज ये 8 साल से वियतनाम में लगातार योग का प्रशिक्षण दे रहे हैं।

पानी के अंदर 8 मिनट तक रोक सकते हैं सांस

गांव आर्य नगर में इनकी युवाओं में योग के प्रति जागरुकता और उत्सुकता लाने का पूरा योगदान है। इनकी इसी मेहनत से 10-12 गांव व शहर के लड़के देश व विदेश में इसी मार्ग पर चलकर योग की शिक्षा देने का कार्य कर रहे हैं। प्राणायाम के माध्यम से इन्होंने अपना श्वशन तंत्र इतना मजबूत किया हुआ है कि ये पानी के अंदर 8 मिनट तक अपनी सांस रोक सकते हैं।

कमल अब भी पानी के अंदर योगासन और प्राणायाम का अभ्यास निरंतर करते हैं। तीन और रिकॉर्ड के लिए इन्होंने गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में आवेदन किया हुआ है। उम्मीद है जल्द ही ये उपलब्धियां भी इनको मिलने वाली हैं।  

संबंधित खबरें