DA Image
9 सितम्बर, 2020|9:51|IST

अगली स्टोरी

ज्यादा बिल आने से परेशान दुकानदार ने बिजली विभाग को सबक सिखाने के लिए उठाया ये कदम

april meter reading of electricity consumers postponed due to lockdown

ज्यादा बिल आने से परेशान एक दुकानदार ने बिजली विभाग को सबक सिखाने को बिल भरने के लिए 23 हजार पांच सौ रुपये सिक्कों के रूप में लेकर बिजली निगम के दफ्तर में पहुंचा। 

सूत्रों के अनुसार, हरियाणा के फतेहाबाद में किराना दुकानदार और डीसी कॉलोनी निवासी सुनील कुमार लोगों को भारी भरकम बिल भेजकर परेशान करने के कारण निगम को सबक सिखाना चाहते थे। उनके पड़ोस में रहने वाली एक विकलांग महिला कैलाश ने उनसे संपर्क कर बताया था कि उन्हें 52 हजार रुपये का बिल भेजा गया है। सुनील ने मामले को लेकर अदालत का दरवाजा खटखटाया जहां से उन्हें 18,500 रुपये का बिजली बिल भरने का आदेश दिया गया। 

इसके बाद सुनील बुधवार को अपने बिल के पांच हजार रुपये मिलाकर 23 हजार पांच सौ रुपये सिक्कों के रूप में लेकर बिजली निगम के दफ्तर में पहुंच गए। दो घंटे तक लाइन में खड़े रहने के बाद जब सुनील की बारी आई तो कैशियर ने काउंटर पर सिक्के लेने से मना कर दिया। सुनील ने बिजली निगम के एसडीओ से संपर्क किया। एसडीओ ने कहा कि नियम के अनुसार, एक हजार रुपये तक के सिक्के ही ले सकते हैं। सुनील ने मामले की शिकायत सिटी पुलिस थाना, फतेहाबाद में दी है और एसडीओ व काउंटर पर बैठे कर्मचारी दीपक कुमार के खिलाफ भारतीय करंसी का अपमान करने का आरोप लगाया है।

सुनील ने कुछ महीने पहले नगर परिषद में हाउस टैक्स के 9,000 रुपये सिक्कों के रूप में ही भरे थे। नगर परिषद ने ये सिक्के ले लिए थे।

इस बीच एसडीओ अंकित कुमार ने संपर्क करने पर बताया कि उनके पास दिशानिर्देश हैं कि एक समय में केवल एक हजार रुपये के सिक्के ले सकते हैं। उन्होंने कहा कि एक बैंक ने उनसे भी यह कहकर कि एक समय एक काउंटर पर एक हजार रुपये तक के सिक्के ही जमा होंगे एक हजार से ज्यादा के सिक्के लेने से मना कर दिया था। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Shopkeeper reached Electricity Corporation office with coin of Rs 23500 to pay Electricity bill in Hisar