अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुजारी ने मंदिर में फांसी लगाकर दी जान, बेटे के इलाज में हुए कर्ज से था परेशान

प्रतीकात्मक तस्वीर

हरियाणा के जींद में रघुनाथ मंदिर के पुजारी ने शुक्रवार शाम संदिग्ध परिस्थितियों में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। लगभग 15 वर्षों से पुजारी सतीश पाठक ही मंदिर में पूजा-अर्चना करता था। उसके परिवार में पत्नी, बेटे तथा बुजुर्ग मां हैं।

गांव बैंसी हाल आबाद, झांझ गेट स्थित रघुनाथ मंदिर में शुक्रवार शाम जब महिलाएं पूजा-अर्चना के लिए पहुंची तो उन्होंने पुजारी  सतीश (30) को फांसी के फंदे पर लटका देखा। सतीश का परिवार मंदिर की दूसरी मंजिल पर रहता है। पुजारी के पिता कश्मीरी लाल की पहले मौत हो चुकी है।

हरियाणा: पानीपत में बच्चों को जहर देकर पत्नी संग फंदे पर लटका व्यापारी

घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची शहर थाना पुलिस ने हालात का जायजा लेकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

बताया गया है कि पुजारी का बेटा काफी बीमार रहता था और उसके इलाज पर काफी पैसा खर्च हो गया था, जिसके चलते पुजारी को बाहर से कर्ज लेना पड़ा था। आशंका है कि उसी मानसिक परेशानी के चलते यह कदम उठाया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Priest commits suicide by hanged self in temple at Haryana jind