DA Image
Friday, December 3, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ हरियाणाअनिल विज ने महबूबा मुफ्ती के DNA पर उठाए सवाल, भारतीयता साबित करने के लिए भी कहा

अनिल विज ने महबूबा मुफ्ती के DNA पर उठाए सवाल, भारतीयता साबित करने के लिए भी कहा

लाइव हिन्दुस्तान,चंडीगढ़।Himanshu Jha
Tue, 26 Oct 2021 11:45 AM
अनिल विज ने महबूबा मुफ्ती के DNA पर उठाए सवाल, भारतीयता साबित करने के लिए भी कहा

अपने बयानों को लेकर सुर्खियों में रहने वाले हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंंत्री और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) चीफ महबूबा मुफ्ती को लेकर विवादित बयान दिया है। उन्होंने मुफ्ती के डीएनए को खराब बताया है। विज ने यह भी कहा है कि उन्हें (महबूबा को) साबित करना होगा कि वह कितनी भारतीय हैं।

इससे पहले उन्होंने अपने एक ट्वीट में लिखा, 'पाकिस्तान के क्रिकेट मैच जीतने पर भारत में पटाखे फोड़ने वालों का डीएनए भारतीय नहीं हो सकता। संभल के रहना अपने घर में छुपे हुए गद्दारों से।'

पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने लोगों से टी 20 विश्व कप मैच में भारत पर पाकिस्तान की जीत को सद्भावना के तौर पर लेने की सोमवार को अपील की। उनका यह बयान कश्मीरियों द्वारा पड़ोसी देश की जीत का जश्न मनाने के खिलाफ रोष पैदा होने के बीच आया था।

आपको बता दें कि पाकिस्तान ने विश्व कप मैच में रविवार को भारत को 10 विकेट से हरा दिया। उसने अपने 13वें प्रयास में चिर प्रतिद्वंद्वी पर पहली जीत दर्ज की।

पंजाब के संगरूर जिले में रविवार रात भाई गुरुदास इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी में कुछ कश्मीरी और उत्तर प्रदेश व बिहार के छात्रों के बीच इस मुद्दे को लेकर झड़प हो गई। पुलिस ने बताया कि मैच के बाद कुछ नारेबाजी होने के बाद यह घटना हुई। महबूबा ने ट्वीट किया, ''पाक की जीत पर कश्मीरियों के खिलाफ इस तरह का गुस्सा क्यों है? कुछ लोग हत्या करने के नारे लगा रहे हैं-देश के गद्दारों को गोली मारो...। किसी को यह नहीं भूलना चाहिए कि जब जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म कर दिया गया था तब कितने लोगों ने मिठाइयां बांटी थी। ''

उन्होंने कहा कि हर किसी को पाक की जीत को सद्भावना के साथ लेना चाहिए। महबूबा ने कहा, ''...इसे सद्भावना के तौर पर विराट कोहली की तरह लीजिए, जिन्होंने पाकिस्तानी क्रिकेट टीम को सबसे पहले बधाई दी।'' 

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें