फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News गुजराततो क्या अरविंद केजरीवाल को 10 साल जेल में रखा जाएगा, पत्नी सुनीता का सवाल

तो क्या अरविंद केजरीवाल को 10 साल जेल में रखा जाएगा, पत्नी सुनीता का सवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल की पत्नी ने लोकसभा चुनाव में प्रचार का जिम्मा संभाल लिया है। गुरुवार को गुजरात में पार्टी उम्मीदवारों के लिए वोट मांगा।

तो क्या अरविंद केजरीवाल को 10 साल जेल में रखा जाएगा, पत्नी सुनीता का सवाल
Sudhir Jhaलाइव हिन्दुस्तान,भावनगरThu, 02 May 2024 03:48 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल की पत्नी ने लोकसभा चुनाव में प्रचार का जिम्मा संभाल लिया है। अब वह दिल्ली के बाहर भी पार्टी के लिए वोट मांग रही हैं। सुनीता केजरीवाल ने गुरुवार को गुजरात के भावनगर में इंडिया गठबंधन के उम्मीदवार उमेश भाई मकवाना के लिए रोड शो किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि उनके पति को जबरन जेल में डाला गया है। सुनीता ने कहा कि समाजसेवा के लिए केजरीवाल ने आईएआरएस की नौकरी छोड़ी थी।

बोटाद में आयोजित रोड शो के अंत में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए सुनीता केजरीवाल ने कहा, 'दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी को पिछले 40 दिन से जबरदस्ती जेल में डाल रखा है। कह रहे हैं कि जांच चल रही है। अगल जांच 10 साल चली तो क्या 10 साल जेल में रखेंगे। पहले कोई आदमी जेल में तब जाता था जब दोषी साबित होता था। अभी इन्होंने नया सिस्टम बनाया है जब तक मुकदमा चलेगा जेल में रखेंगे। यह सरासर गुंडागर्दी है। तानाशाही है। केजरीवाल जी सच्चे देशभक्त, ईमानदार और पढ़े लिखे हैं।'

सुनीता केजरीवाल ने कहा, 'अरविंद केजरीवाल ने समाज सेवा करने के लिए आईआरएस की नौकरी छोड़ दी। दिल्ली की जनता ने उन्हें तीन बार अपना मुख्यमंत्री चुना। गुजरात की जनता ने आम आदमी पार्टी के पांच विधायक चुने। पूरे देश की जनता अरविंद केजरीवाल जी को प्यार करती है। यह चीज बीजेपी वालों से देखी नहीं गई और उन्हें झूठे मामले में जेल में डाल दिया।' गौरतलब है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को कथित शराब घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग केस में प्रवर्तन निदेशालय ने 21 मार्च को गिरफ्तार कर लिया था। फिलहाल वह तिहाड़ जेल में न्यायिक हिरासत में हैं।

केजरीवाल के जेल जाने के बाद से उनकी पत्नी सुनीता ने पार्टी के कामकाज का जिम्मा संभाल लिया है। भाजपा का दावा है कि सुनीता को दिल्ली का सीएम पद भी सौंपा जा सकता है। हालांकि, आम आदमी पार्टी बार-बार साफ कर चुकी है कि केजरीवाल ही मुख्यमंत्री बने रहेंगे और वह जेल से ही सरकार चलाएंगे।