फोटो गैलरी

Hindi News गुजरातगुजरात में क्यों कहर बरपा रही बेमौसम बारिश, बिजली गिरने से दो दर्जन की चली गई जान

गुजरात में क्यों कहर बरपा रही बेमौसम बारिश, बिजली गिरने से दो दर्जन की चली गई जान

गुजरात में रविवार को कई जिलों में जोरदार बारिश हुई। बारिश के साथ ओलावृष्टि औरआकशीय बिजली गिरने की घटनाओं में कम से कम 22 की जान चली गई।

गुजरात में क्यों कहर बरपा रही बेमौसम बारिश, बिजली गिरने से दो दर्जन की चली गई जान
Ankit Ojhaलाइव हिंदुस्तान,अहमदाबादMon, 27 Nov 2023 10:14 AM
ऐप पर पढ़ें

गुजरात में बेमौसम बारिश और आकाशीय बिजली ने कम से कम 22 लोगों की जान ले ली है। रविवार को गुजरात में कई जगहों पर जोरदार बारिश और ओलावृष्टि हुई। ओले गिरने की वजह से सड़कों पर सफेद चादर बिछी नजर आई। दाहोद में चार, भरूच में तीन, तापी में दो, अहमदाबाद, अमरेली, बनासगकाठा, बातोड, खेड़ा, मेहसाना, पंचमहल, साबरकांठा, सूरत, सूरेंद्र नगर और द्वारका में एक-एक की मौत हो गई। बता दें कि मौसम विभाग ने सोमवार के लिए भी गुजरात में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। 

क्या है बेमौसम बारिश की वजह
मौसम विभाग कहना है कि पश्चिमी विक्षोभ ऐक्टिव होने की वजह से गुजरात के कई जिलों में भारी बारिश हो रही है। अहमदाबाद में मौसम विज्ञान केंद्र के डायरेक्टर मनोरमा मोहंती ने कहा कि रविवार के लिए  बारी बारिश का अलर्ट था। हालांकि सोमवार को भी दक्षिण गुजरात और सौराष्ट्र में भारी बारिश हो सकती है। उन्होंने कहा कि उत्तरपूर्व अरब सागर में चक्रवातीय संचरण की वजह से यह बारिश हो रही है। 

मौसम विभाग ने कहा कि सोमवार को गुजरात के ज्यादातर इलाकों में हल्की बारिश होगी। वहीं सोमवार से एक बार फिर मौसम शुष्क रहेगा। हालांकि बेमौसम बारिश की वजह से कई जिलों मे ठंड बढ़ने के आसार हैं। एसईओसी के आंकड़ों के मुताबिक गुजरात के 252 में से 234 तालुका में रविवार को बारिश हुई। सुरेंद्रनगर, तापी, खेड़ा और अमेरेली जिलों में 50 से 117मिमी तक वर्षा रिकॉर्ड की गई। मोरबी और राजकोट में बारिश के साथ ओलावृष्टि भी हुई। 

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी गुजरात में बारिश की वजह से होने वाली मौतों पर दुख जताया है। उन्होंने सोशल प्लैटफॉर्म एक्स पर लिखा. गुजरात के कई शहरों में भारी बारिश और बिजली गिरने की वजह से लोगों की जान चली गई है। हम मारे गए लोगों के परिवारों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करते हैं। स्थानीय प्रशासन को राहत बचाव करने के निर्देश दिए गए हैं। जो लोग घायल हुए हैं उनके जल्दी स्वस्थ होने की कामना करते हैं। बता दें कि रविवार को राजस्थान के भी कुछ जिलों में बारिश के साथ ओलावृष्ट हुई। 


 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें