फोटो गैलरी

Hindi News गुजरातVande Bharat: इस रूट पर चलने वाली वंदे भारत को लेकर आई गुड न्यूज, लाखों यात्रियों की बल्ले-बल्ले

Vande Bharat: इस रूट पर चलने वाली वंदे भारत को लेकर आई गुड न्यूज, लाखों यात्रियों की बल्ले-बल्ले

Vande Bharat Express: मुंबई-अहमदाबाद मार्ग पर वर्तमान में वंदे भारत ट्रेनों को लगभग 5.15 घंटे और शताब्दी ट्रेनों को 6.35 घंटे लगते हैं। इस पहल से यात्रा का समय करीब 30 मिनट कम हो जाएगा।

Vande Bharat: इस रूट पर चलने वाली वंदे भारत को लेकर आई गुड न्यूज, लाखों यात्रियों की बल्ले-बल्ले
Swati Kumariलाइव हिन्दुस्तान,अहमदाबादSat, 24 Feb 2024 07:51 PM
ऐप पर पढ़ें

Vande Bharat Express Train: मुंबई से अहमदाबाद तक वंदे भारत ट्रेन से सफर करने वाले यात्रियों के लिए खुशखबरी है। मार्च के आखिरी सप्ताह से ट्रेनों की रफ्तार बढ़ सकती है। ऐसे में यात्रा समय भी 25 से 30 मिनट तक घट जाएगा। यह विकास मिशन रफ्तार का हिस्सा है, जो एक रणनीतिक पहल है जिसका उद्देश्य ट्रेन की गति और दक्षता को बढ़ावा देना है। इन ट्रेनों की स्पीड बढ़ने से मुंबई और अहमदाबाद के बीच यात्रा का समय 30 मिनट कम होने की उम्मीद है। 

मार्च 2024 से यात्री मुंबई और अहमदाबाद के बीच यात्रा के समय में लगभग दो घंटे बचा सकते हैं। पश्चिम रेलवे बुनियादी ढांचे और इंजीनियरिंग उन्नयन के अंतिम चरण में है, जो एक बार पूरा होने पर ट्रेनों को 160 किमी प्रति घंटा तक की गति से चलाने की अनुमति देगा। फिलहाल, दोनों शहरों के बीच ट्रेनों को लगभग छह से आठ घंटे लगते हैं।

मुंबई और अहमदाबाद के बीच की दूरी लगभग 534 किलोमीटर है। इन दोनों शहरों के बीच यात्रा करने के कई तरीके हैं, जिनमें ट्रेन, बस और उड़ानें शामिल हैं। मुंबई और अहमदाबाद के बीच यात्रा करने का सबसे तेज तरीका उड़ान लेना है, जिसमें लगभग दो घंटे लगते हैं। यात्रा करने का सबसे सस्ता तरीका रात की ट्रेन लेना है, जिसमें लगभग 8 घंटे 10 मिनट लगते हैं।

फिलहाल, विरार और चर्चगेट के बीच गति सीमा 100-110 किमी प्रति घंटे है। ऐसे में अनुमान लगाया जा रहा है स्पीड 160 किमी प्रति घंटे तक बढ़ने के साथ, वंदे भारत और शताब्दी ट्रेनों के यात्रा समय में उल्लेखनीय कमी देखने को मिलेगी। मुंबई-अहमदाबाद मार्ग पर वर्तमान में वंदे भारत ट्रेनों को लगभग 5.15 घंटे और शताब्दी ट्रेनों को 6.35 घंटे लगते हैं। इस पहल से यात्रा का समय करीब 30 मिनट कम हो जाएगा। गति बढ़ने से न केवल इन यात्राओं की दक्षता में सुधार होगा बल्कि यात्रियों को तेज और अधिक सुविधाजनक यात्रा अनुभव भी मिलेगा।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें