DA Image
हिंदी न्यूज़ › गुजरात › गुजरात में वैक्सीन नहीं लगवाने वालों को पब्लिक ट्रांसपोर्ट में नहीं मिलेगी एंट्री, सरकारी भवनों में भी रोक
गुजरात

गुजरात में वैक्सीन नहीं लगवाने वालों को पब्लिक ट्रांसपोर्ट में नहीं मिलेगी एंट्री, सरकारी भवनों में भी रोक

एएनआई,अहमदाबाद।Published By: Himanshu Jha
Mon, 20 Sep 2021 11:56 AM
गुजरात में वैक्सीन नहीं लगवाने वालों को पब्लिक ट्रांसपोर्ट में नहीं मिलेगी एंट्री, सरकारी भवनों में भी रोक

अहमदाबाद नगर निगम (एएमसी) ने सोमवार से उन लोगों पर सार्वजनिक सुविधाओं का उपयोग करने पर प्रतिबंध लगा दिया जिन्होंने कोरोना वैक्सीन नहीं लगवाया गया है। ऐसे लोगों को सरकारी बसों और सार्वजनिक भवनों में एंट्री नहीं मिलेगी।

जिग्नेश पटेल, निदेशक पार्क और उद्यान, एएमसी ने न्यूज एजेंसी एएनआई को बताया कि 18 वर्ष से ऊपर के सभी लोगों को अपने मोबाइल में कोरोना टीकाकरण सर्टिफिकेट या उसकी एक कॉपी दिखानी होगी। इन प्रमाणपत्रों की जांच के बाद ही उन्हें ऐसे जगहों पर प्रवेश की अनमुति मिलेगी।

जिग्नेश पटेल ने कहा, "अहमदाबाद म्युनिसिपल ट्रांसपोर्ट सर्विस (एएमटीएस), बस रैपिड ट्रांजिट सिस्टम, कांकरिया लेकफ्रंट, रिवरफ्रंट, लाइब्रेरी, व्यायामशाला, स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स, स्विमिंग पूल, सिटी सिविक सेंटर आज से टीका नहीं लगवाने वाले लोगों के लिए बंद हैं।" उन्होंने आगे कहा कि टीकाकरण प्रक्रिया में तेजी लाने और लोगों में संभावित झिझक को दूर करने के लिए यह निर्णय लिया गया है।

उन्होंने कहा, "COVID-19 वैक्सीन इस महामारी के खिलाफ एकमात्र हथियार है। जिन लोगों को टीका नहीं लगाया गया है, उन्हें पार्कों और बगीचों में प्रवेश करने से रोक दिया जाएगा। जिन्होंने पहली खुराक ली है और अपनी दूसरी खुराक बाकी है, उन्हें भी नागरिक परिवहन सेवा और सरकारी भवनों में प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी।" 

कई लोगों ने प्रशासन के इस फैसले की सराहना की। पार्क आने वाले एक व्यक्ति ने कहा, "यह एक अच्छी पहल है। सरकार और प्रशासन के इस तरह के सख्त फैसले से लोगों को टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। अगर सभी को टीका लगाया जाता है, तो यह हमारे लिए अच्छा है। हम एएमसी के फैसले का स्वागत करते हैं।"

एक अन्य दीपक गहलोत ने कहा, "यह एक बहुत अच्छा निर्णय है, क्योंकि बहुत से लोग अभी भी COVID-19 दिशानिर्देशों का पालन नहीं कर रहे हैं। वे बिना मास्क के घूम रहे हैं। अगर सरकार और निगम सख्त हैं तो लोग निश्चित रूप से नियमों का पालन करेंगे और वैक्सीन है हमारे देश को COVID मुक्त बनाने के लिए सबसे महत्वपूर्ण है।"

संबंधित खबरें