फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News गुजरातTRP गेम जोन, जो बन गया गुजरात का 'गम जोन', आग से पहले और बाद की तस्वीरें

TRP गेम जोन, जो बन गया गुजरात का 'गम जोन', आग से पहले और बाद की तस्वीरें

गुजरात के राजकोट में स्थित टीआरपी गेम जोन अब राख के ढेर में तब्दील हो चुका है। महज कुछ घंटे पहले यहां की रौनक देखते ही बनती थी, लेकिन अब हर तरफ मौत का तांडव पसरा है। बच्चों की चहचहाहट गुम हो चुकी है।

TRP गेम जोन, जो बन गया गुजरात का 'गम जोन', आग से पहले और बाद की तस्वीरें
Subodh Mishraलाइव हिन्दुस्तान,राजकोटSun, 26 May 2024 12:02 AM
ऐप पर पढ़ें

गुजरात के राजकोट में स्थित टीआरपी गेम जोन अब राख के ढेर में तब्दील हो चुका है। महज कुछ घंटे पहले यहां की रौनक देखते ही बनती थी, लेकिन अब हर तरफ मौत का तांडव पसरा है। बच्चों की चहचहाहट गुम हो चुकी है। आइए इन तस्वीरों के जरिए देखते हैं कि गेम जोन पहले कैसा था और अब उसकी हालत कैसी हो गई है।

हर तरफ रहती थी रौनक, देखते ही बनती थी बच्चों की खुशियां

राजकोट के टीआरपी जोन में बच्चों के खेलने के लिए कई तरह की चीजें मौजूद थीं। जैसे-जूनियर जंपिंग, डार्ट गेम टारगेट, जूनियर बॉलिंग एली, सूमो रेसलिंग सहित और भी कई चीजें थीं, जिनमें खेलकर बच्चे खुशी से फूले नहीं समाते थे। विशेषकर छुट्टियों के दिनों और वीकेंड में तो यहां का नजारा देखते ही बनता था।

गो कार्ट पर बैठकर रेस लगाते थे बच्चे
गो कार्ट इस जोन में बच्चों में सबसे ज्यादा लोकप्रिय था। बच्चे उसमें बैठकर आपस में रेस लगाते थे। इस दौरान बच्चे सेफ्टी बेल्ट और हेलमेट लगाकर जब कार्ट पर सवारी करते थे तो खुद को किसी रेसर से कम नहीं समझते थे।

राइफल शूटिंग में साधते थे निशाना

इस गेम जोन में बड़े बच्चों के बीच राइफल शूटिंग का बड़ा क्रेज था। वे यहां आकर राइफल से निशाना साधते थे। कई बच्चे तो अपनी निशाना को अचूक बनाने के लिए अक्सर यहां आकर राइफल पर अपना हाथ आजमाते थे।

छुट्टी के दिनों में रहती थी ज्यादा रौनक
इस गेम जोन में इतने सारे गेम थे कि बच्चों का मन ही नहीं भरता था। वे सभी तरह के गेम खेलना चाहते थे, लेकिन समय कम होने के कारण ऐसा नहीं कर पाते थे। इसलिए वे यहां आने के लिए छुट्टियों का इंतजार करते थे। जिस दिन स्कूलों में छुट्टी होती यहां की रौनक देखते ही बनती थी। काफी संख्या में बच्चे आते और अपनी पसंद के सभी तरह के खेल खेलते।

काला साबित हुआ शनिवार का दिन
एक तो गर्मी की छुट्टियां ऊपर से शनिवार का दिन। काफी संख्या में बच्चे यहां खेलों का लुत्फ उठाने के लिए अपने परिजनों के साथ पहुंचे थे। लेकिन, उन्हें नहीं पता था कि उनकी ये खुशियां पल भर में मातम में बदलने वाली है। करीब चार-सवा चार बजे गेम जोन में भीषण आग लग गई। अभी तक इस हादसे में कई बच्चों समेत 24 लोगों के मारे जाने की खबर है।

हर तरफ चीख पुकार और अफरा तफरी
शनिवार को जैसे ही इस गेम जोन में आग लगी, हर तरफ चीख पुकार मच गई। लोग अपने बच्चों को लेकर इधर-उधर भागने लगे। अफरा तफरी का माहौल हो गया। चूंकि हर तरफ धुआं फैल गया था, इसलिए कई लोग वहां से बाहर नहीं निकल सके। 

अब दिख रहे राख के ढेर और जले-बुझे खिलौने
आग इतनी भीषण थी कि पूरा गेमिंग जोन राख के ढेर में तब्दील हो गया। हर तरफ जले-बुझे खिलौने दिख रहे थे। कभी इतना आकर्षक दिखने वाला यह गेम जोन अब डरावना दिखने लगा है।