फोटो गैलरी

Hindi News गुजरातकौन हैं गोविंदभाई ढोलकिया, मयंकभाई नायक और जशवंत सिंह परमार? जिन्हें BJP ने बनाया RS कंडिडेट

कौन हैं गोविंदभाई ढोलकिया, मयंकभाई नायक और जशवंत सिंह परमार? जिन्हें BJP ने बनाया RS कंडिडेट

Rajya Sabha Election 2024: कौन हैं गोविंदभाई ढोलकिया, मयंकभाई नायक और जशवंत सिंह सलामसिंह परमार? जिनको भारतीय जनता पार्टी ने गुजरात से बनाया अपना राज्यसभा उम्मीदवार, इस रिपोर्ट में जानें...

कौन हैं गोविंदभाई ढोलकिया, मयंकभाई नायक और जशवंत सिंह परमार? जिन्हें BJP ने बनाया RS कंडिडेट
Krishna Singhलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 14 Feb 2024 05:00 PM
ऐप पर पढ़ें

भाजपा ने राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा समेत गुजरात से चार नेताओं को राज्यसभा चुनाव के लिए उम्मीदवार बनाया गया है। जेपी नड्डा के अलावा गोविंद भाई ढोलकिया, मयंक भाई नायक और जसवंत सिंह परमार के नाम का ऐलान भी किया गया है। राज्यसभा की 56 सीटों के लिए 27 फरवरी को चुनाव होना है। नामांकन दाखिल करने की अंतिम तारीख 15 फरवरी है। जरूरत पड़ी तो 27 फरवरी को मतदान कराया जा सकता है। इस रिपोर्ट में जानिए कौन हैं गोविंदभाई ढोलकिया, मयंकभाई नायक और जशवंत सिंह सलामसिंह परमार जिन्हें भाजपा भेज रही राज्यसभा...

कौन हैं मयंक भाई नायक?
मयंक भाई नायक नायक एक ओबीसी नेता हैं। मौजूदा वक्त में वह भाजपा के ओबीसी मोर्चा के अध्यक्ष के रूप में काम कर रहे हैं। एक समर्पित पार्टी कार्यकर्ता के रूप में जाने जाने वाले मयंक भाई नायक ने पाटन जिले के भाजपा प्रभारी के रूप में भी काम किया है। उन्होंने कहा कि पार्टी ने मुझे सभी तरह की जिम्मेदारियां दी हैं। मैं गुजरात और देश के लोगों के लिए प्रधानमंत्री भाई मोदी और केंद्रीय मंत्री अमित शाह के निर्देशों के अनुसार काम करूंगा।  

कौन हैं गोविंद भाई ढोलकिया?
गुजरात के सूरत से ताल्लुक रखने वाले गोविंद भाई ढोलकिया गुजरात के प्रसिद्ध हीरा कारोबारी हैं। हाल ही में गोविंद भाई ढोलकिया अयोध्या राम मंदिर निर्माण के लिए 11 करोड़ रुपए का चंदा देकर चर्चा में आए थे। बीते कई वर्षों से ढोलकिया राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से जुड़े रहे हैं। उन्होंने 1992 के राम जन्मभूमि आंदोलन में भी मदद की थी। दीवाली के मौके पर ढोलकिया अपने कर्मचारियों को कीमती उपहार देते हैं। उनकी यह पहल सुर्खियों में छा जाया करती है। 

गोधरा निर्दलीय चुनाव लड़ चुके हैं परमार
भाजपा की ओर से राज्यसभा के लिए उम्मीदवारी का ऐलान किए जाने पर जसवंत सिंह परमार ने सुखद आश्चर्य जताते हुए कहा कि वह जनता को प्रभावित करने वाले मुद्दों को राज्यसभा में उठाएंगे। उन्होंने कहा- मैं एक सक्रिय पार्टी कार्यकर्ता हूं। मेरे माता-पिता भी सक्रिय पार्टी नेता थे। गोधरा से हमारे उम्मीदवार को बड़े अंतर से जिताने के लिए पिछले चुनाव के दौरान हम सभी ने कड़ी मेहनत की थी। परमार ने गोधरा से 2017 का विधानसभा चुनाव निर्दलीय लड़ा था लेकिन हार गए थे। बाद में वह बीजेपी में शामिल हो गये। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें