फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News गुजरातभगवान राम व शिव पर दिया खरगे का वो बयान, जिसे PM मोदी ने बताया बेहद खतरनाक, योगी भी भड़के

भगवान राम व शिव पर दिया खरगे का वो बयान, जिसे PM मोदी ने बताया बेहद खतरनाक, योगी भी भड़के

खरगे ने चुनावी रैली में कहा था मोदी केवल लोगों को गुमराह करते हैं। जब कुछ कहने की बात आती है तो वह हिंदू और मुस्लिम के बारे में बोलते हैं। जहां मुसलमान नहीं हैं, वहां भी वह हिंदू-मुसलमान करते हैं।

भगवान राम व शिव पर दिया खरगे का वो बयान, जिसे PM मोदी ने बताया बेहद खतरनाक, योगी भी भड़के
Sourabh Jainलाइव हिंदुस्तान,भावनगर, गुजरातThu, 02 May 2024 04:02 PM
ऐप पर पढ़ें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर तीखा हमला बोला। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे के भगवान राम और भगवान शिव को लेकर दिए बयान को बड़ा खतरनाक बताते हुए कहा कि कांग्रेस अब हिंदू समाज को विभाजित करने की कोशिश कर रही है। उधर खरगे के इस बयान पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी कड़ी आपत्ति जताई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस लोकसभा चुनाव में हार की खिसियाहट को हिंदू आस्था के साथ खिलवाड़ के जरिये जाहिर कर रही है।

खरगे का वो बयान जिस पर भड़के पीएम

पीएम ने खरगे के जिस बयान का जिक्र किया वो उन्होंने 30 अप्रैल को छत्तीसगढ़ की जांजगीर-चांपा लोकसभा सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी के पक्ष में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए दिया था। पार्टी उम्मीदवार शिवकुमार डहरिया के पक्ष में वोट मांगते हुए कांग्रेस अध्यक्ष खरगे ने कहा था, 'उनका नाम शिव कुमार है, वह राम को समान रूप से टक्कर दे सकते हैं, क्योंकि वह शिव हैं। मेरा नाम भी मल्लिकार्जुन है, मैं भी शिव हूं। धार्मिक टिप्पणी (भाजपा की ओर इशारा करके) करके लोगों को गुमराह न करें। लोग अब बुद्धिमान और शिक्षित हो गए हैं।' 

खरगे के बयान पर पीएम बोले- कांग्रेस और कितना गिरेगी?

प्रधानमंत्री मोदी ने गुरुवार को गुजरात के भावनगर में जनसभा को संबोधित करते हुए खरगे के इस बयान पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कांग्रेस ने हिंदुओं की आस्था में भी भेद करने का दुस्साहस शुरू किया है। कांग्रेस के अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे जी उन्होंने एक बड़ा गंभीर विषय छेड़ा है। उन्होंने भगवान राम और भगवान शिव के संबंध में बड़ा खतरनाक बयान दिया है। और वो बदनीयत से दिया गया बयान है, हिंदू समाज को बांटने के लिए खेला गया खेल है। वो राम भक्तों और शिव भक्तों में भेद देखते हैं, भेद करते हैं, और भेद करके लड़ाना चाहते हैं। हजारों-हजार साल से चली आ रही हमारी महान परंपरा... राम हो, कृष्ण हो, शिव हो.. मुगल भी इसे तोड़ नहीं पाए थे मल्लिकार्जुन जी, उसे अब कांग्रेस उन्हें तोड़ना चाहती है। तुष्टिकरण के लिए कांग्रेस और कितना नीचे गिरेगी?' आगे उन्होंने कहा, 'कांग्रेस के लोग सुन ले, जो राम को खत्म करने के लिए निकला था, उसका क्या हश्र हुआ था।'

खरगे के बयान पर यूपी के सीएम भी भड़के

उधर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे द्वारा भगवान राम और शिव पर दिए गए बयान पर आक्रोश जताया है। इस बारे में गुरुवार को लखनऊ में संवाददाताओं से बातचीत में उन्होंने खरगे की टिप्पणी का जिक्र करते हुए सीएम ने कहा, 'कांग्रेस लोकसभा चुनाव 2024 में बुरी तरह पराजित हो रही है और हार की इसी खिसियाहट को वह बहुसंख्यक हिंदू समाज की आस्था को अपमानित कर, उसके साथ खिलवाड़ करके व्यक्त कर रही है।' 

उन्होंने कहा कि कांग्रेस का इतिहास इस प्रकार के कृत्यों से भरा पड़ा है, लेकिन इन सबके बावजूद चुनाव के समय इस तरह के संवेदनशील मुद्दों को उठाकर कांग्रेस भारत की आस्था के साथ-साथ बहुसंख्यक समाज को अपमानित कर रही है। सीएम ने आगे कहा, 'कांग्रेस की वास्तविकता सामने आ रही है। भारत की सनातन परंपरा को अपमानित करना, उसको लांछित करना, भारत की आस्था के साथ खिलवाड़ करना, ये कांग्रेस की प्रवृत्ति है और कांग्रेस अध्यक्ष को जो कांग्रेसी संस्कार प्राप्त हुए हैं, वही बात वह अपने भाषणों में कर रहे हैं।'

मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया, 'आपस में बांटो और राज करो कांग्रेस की पुरानी प्रवृत्ति रही है। उसके चुनाव घोषणापत्र में भी समाज को जातीय आधार पर बांटने का प्रयास किया गया है। देश के अंदर एससी, एसटी, ओबीसी के अधिकार को वह कैसे अल्पसंख्यकों को बांटने की कुत्सित चेष्टा का हिस्सा बन रही है, इसका स्पष्ट उदाहरण कांग्रेस के मैनिफेस्टो में नजर आता है।'