फोटो गैलरी

Hindi News गुजरातVIDEO: PM मोदी ने लगाई आस्था की डुबकी, समुद्र में डूबे द्वारका के किए दर्शन; गहरे पानी में लगाया ध्यान

VIDEO: PM मोदी ने लगाई आस्था की डुबकी, समुद्र में डूबे द्वारका के किए दर्शन; गहरे पानी में लगाया ध्यान

पीएम मोदी ने द्वारका जिले के पंचकुई समुद्र के नीचे द्वारका में पूजा भी की। इस दौरान उन्होंने भगवान श्री कृष्ण के चरणों में उनकी सबसे प्यारी चीज मोर पंख भी भेंट किया।

VIDEO: PM मोदी ने लगाई आस्था की डुबकी, समुद्र में डूबे द्वारका के किए दर्शन; गहरे पानी में लगाया ध्यान
Aditi Sharmaलाइव हिन्दुस्तान,द्वारकाSun, 25 Feb 2024 06:23 PM
ऐप पर पढ़ें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने गुजरात दौरे के दौरान अपने उस सपने को पूरा किया जिसकी चाह उन्हें दशको से थी। गुरुवार को उन्होंने ना केवल सुमद्र में आस्था की डुबकी लगाई बल्कि उस स्थान पर जाकर प्रार्थना भी की जहां माना जाता है कि भगवान श्री कृष्ण की लीलाएं समाप्त होने के बाद प्राचीन द्वारका शहर पानी में डूब गया था। पीएम मोदी ने द्वारका जिले के पंचकुई समुद्र तट पर स्कूबा डाइविंग की और समुद्र के नीचे द्वारका में पूजा भी की। इस दौरान उन्होंने भगवान श्री कृष्ण के चरणों में उनकी सबसे प्यारी चीज मोर पंख भी भेंट किया। 

न्यूज एजेंसी एएनआई ने इन दिव्य पलों का एक वीडियो शेयर किया है जिसमें वह मोर पंखों के साथ पानी के अंदर जाते नजर आ रहे हैं और फिर उन्हीं मोर पंखों को भगवान कृष्ण के चरणों में भेंट कर हाथ जोड़कर नमन करते नजर आ रहे हैं। इस दौरान पीएम मोदी पानी के अंदर ही ध्यान लगाते भी नजर आए। 

पीएम मोदी ने अपने इस अनुभव को साझा करते हुए कहा कि आज मैंने जिन क्षणों का अनुभव किया वे सदैव मेरे साथ रहेंगे। मैं समुद्र की गहराई में गया और प्राचीन द्वारका नगरी के दर्शन किये। पानी के अंदर छिपी द्वारका नगरी के बारे में पुरातत्वविदों ने बहुत कुछ लिखा है। हमारे धर्मग्रंथों में भी द्वारका के बारे में कहा गया है कि यह सुंदर द्वारों और दुनिया की चोटी जितनी ऊंची इमारतों वाला शहर था। इस नगर का निर्माण स्वयं भगवान कृष्ण ने किया था।

पीएम मोदी ने कहा, जब मैं समुद्र की गहराई में गया तो मुझे दिव्यता का अनुभव हुआ। मैंने द्वारकाधीश के सामने सिर झुकाया। मैं अपने साथ एक मोर पंख ले गया और उसे भगवान कृष्ण के चरणों में रख दिया। मैं हमेशा वहां जाने और प्राचीन द्वारका शहर के अवशेषों को छूने के लिए उत्सुक था। मैं आज भावनाओं से भरा हुआ हूं। दशकों पुराना सपना आज पूरा हो गया।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें