DA Image
हिंदी न्यूज़ › गुजरात › गुजरात: सूबे में देश के पहले सेनेटरी पैड बैंक की आज से शुरुआत, 11 करोड महिलाओं को जोड़ने का संकल्प
गुजरात

गुजरात: सूबे में देश के पहले सेनेटरी पैड बैंक की आज से शुरुआत, 11 करोड महिलाओं को जोड़ने का संकल्प

पेबल,राजकोटPublished By: Ashutosh Ray
Tue, 26 Jan 2021 01:37 AM
गुजरात: सूबे में देश के पहले सेनेटरी पैड बैंक की आज से शुरुआत, 11 करोड महिलाओं को जोड़ने का संकल्प

अभी तक आपने ब्लड बैंक ही सुना होगा लेकिन अब सूबे में देश के पहले पैड बैंक की शुरूआत भी होने जा रही है। वहीं, इस मुहिम को शुरू करने का सारा श्रेय राज्य की एक संस्था 'माय फ्रिडम चेरिटेबल ट्रस्ट' को जाता है। इस संदर्भ में एक प्रेस वार्ता के दौरान इस बैंक की ओर से डोनेशन कैंप में 501 बेटियों को गोद लिया गया है। वहीं आगामी 5 साल में 11 करोड महिलाओं को शामिल करने का भी संकल्प लिया गया है। बताया जा रहा है कि, इन पैड्स में एक खास तरह की चिप का इस्तेमाल हुआ है, जिसे 'अनायन चिप' का नाम दिया गया है, जो कि पीरियड्स के दौरान महिलाओं के दर्द से राहत भी देगी।

इस नए तरीके के ब्लड बैंक के बारे में डॉ प्रीति गुप्ता ने जानकारी देते हुए कहा कि, हमारी संस्था ने यह संकल्प लिया था कि देश में ब्लड बैंक की तरह ही सेनेटरी पैड बैंक हो ताकि महिलाओं को एक स्वच्छ और सुरक्षित जीवन मिले साथ ही उन्हें रोजगार भी उपलब्ध हो सके। उन्होंने कहा कि, उनकी संस्था माय फ्रिडम चेरिटेबल ट्रस्ट की ओर से 26 जनवरी से भारत में पहली अनायन पैड बैंक की शुरूआत की जा रही है।

डॉ. प्रीति गुप्ता ने कहा कि मैं पिछले 2 वर्षों से माय फ्रीडम महिला स्वास्थ्य, स्वरोजगार और स्वालंबन अभियान चला रही हैं। जिसके माध्यम से 50 हजार से अधिक परिवारों को सेनेटरी पैड दिए जाएंगे। इतना ही नहीं, इस अभियान से 12 हजार से अधिक महिलाओं को स्वरोजगार मिलेगा। इसलिए, डॉ. प्रीति गुप्ता को महिला स्वरोजगार पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया है। 

इस अभियान के बारे में उन्होंने कहा कि वर्तमान में हमारी संस्था से 12 हजार महिलाएं जुड़ गई हैं। ये महिलाएं स्लम क्षेत्र में जाकर अनायन पैड वितरित करेंगी। हमारे अभियान के तहत एक महिला या बेटी को पूरे साल चलने लायक पर्याप्त पैड दिए जाएंगे। हम उन क्षेत्रों में पैड वितरित करेंगे, जहां महिलाएं सैनिटरी पैड का उपयोग नहीं करती हैं। अनायन पैड की खास बात ये है कि इसमें एक चिप लगी है, जो पीरियड्स के दौरान महिलाओं के दर्द से राहत भी दिलाती है।

संबंधित खबरें