फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News गुजरातगुजरात में चुनाव खत्म हो जाने के बाद भी BJP में थम नहीं रही रार, आपस में भिड़ गए दो नेता

गुजरात में चुनाव खत्म हो जाने के बाद भी BJP में थम नहीं रही रार, आपस में भिड़ गए दो नेता

गुजरात की लोकसभा सीट के लिए वोटिंग के बाद भी भाजपा में अंदरूनी कलह थमने का नाम नहीं ले रही है। अमरेली लोकसभा सीट से भाजपा के दो नेता आपस में ही भिड़ते नजर आ रहे हैं। पढ़ें यह रिपोर्ट...

गुजरात में चुनाव खत्म हो जाने के बाद भी BJP में थम नहीं रही रार, आपस में भिड़ गए दो नेता
Krishna Singhभाषा,अमरेलीSun, 12 May 2024 10:00 PM
ऐप पर पढ़ें

गुजरात की लोकसभा सीट के लिए मतदान संपन्न हो चुका है लेकिन भाजपा में अंदरूनी कलह थमने का नाम नहीं ले रही है। अमरेली लोकसभा सीट से भाजपा उम्मीदवार भरत सुतारिया और मौजूदा सांसद नारन कछाड़िया के बीच टिकट वितरण को लेकर आरोप-प्रत्यारोप शुरू हो गया है। दोनों में रार तब शुरू हुई जब नारन कछाड़िया ने खराब मतदान प्रतिशत के लिए पार्टी के उम्मीदवार को जिम्मेदार ठहरा दिया। भाजपा सांसद ने यह भी दावा किया कि कार्यकर्ता पार्टी के फैसले से खुश नहीं थे।

मतदान के कुछ दिनों बाद कछाड़िया ने अमरेली जिले के सावरकुंडला में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए अपनी भड़ास निकाली। उन्होंने अपनी नाराजगी जताई जिसका एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। वहीं भाजपा उम्मीदवार भरत सुतारिया ने अपनी उम्मीदवारी पर सवाल उठाने वाले कछाड़िया पर पलटवार करते हुए कहा कि मौजूदा सांसद भाजपा के शीर्ष नेतृत्व और उसके संसदीय बोर्ड का अपमान कर रहे हैं।

सुतारिया ने रविवार को कछाड़िया की आलोचना की और आरोप लगाया कि उन्होंने उनके चयन पर सवाल उठाकर भाजपा के शीर्ष नेतृत्व और उसके संसदीय बोर्ड का अपमान किया है। बता दें कि मौजूदा सांसद नारन कछाड़िया ने 2009, 2014 और 2019 में अमरेली से जीत हासिल की थी। पिछले लोकसभा चुनाव में उन्होंने कांग्रेस के परेश धनानी को करीब दो लाख वोट के अंतर से हराया था।

गुजरात की 26 लोकसभा सीट में से 25 सीट पर सात मई को तीसरे चरण में मतदान हुआ था। गुजरात में औसतन 60.13 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया था। सौराष्ट्र क्षेत्र के अमरेली में सबसे कम 50.29 फीसदी मतदान रिकॉर्ड किया गया था। सूरत में भाजपा उम्मीदवार पहले ही निर्विरोध जीत चुके हैं। अमरेली में भाजपा ने इस बार तीन बार के सांसद नारन कछाड़िया को हटा दिया था। भाजपा ने इस बार अमरेली जिला पंचायत के अध्यक्ष सुतारिया को अपना उम्मीदवार बनाया था।