फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News गुजरातGujarat : पति ने पत्नी के आशिक को बम से उड़ाया, घर पर पार्सल में भेजा विस्फोटक भरा स्पीकर; धमाके में बाप-बेटी की मौत

Gujarat : पति ने पत्नी के आशिक को बम से उड़ाया, घर पर पार्सल में भेजा विस्फोटक भरा स्पीकर; धमाके में बाप-बेटी की मौत

गुजरात के साबरकांठा में गुरुवार को एक घर में स्पीकर फटने से एक व्यक्ति और उसकी बेटी की मौत हो गई और दो बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गए। पुलिस ने इस मामले में एक शख्स को हिरासत में लिया है।

Gujarat : पति ने पत्नी के आशिक को बम से उड़ाया, घर पर पार्सल में भेजा विस्फोटक भरा स्पीकर; धमाके में बाप-बेटी की मौत
Praveen Sharmaसाबरकांठा। लाइव हिन्दुस्तानFri, 03 May 2024 10:20 AM
ऐप पर पढ़ें

गुजरात के साबरकांठा जिले के वडाली तालुका में गुरुवार को एक घर में विस्फोटक भरा स्पीकर फटने से एक व्यक्ति और उसकी बेटी की मौत हो गई और दो बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गए। पुलिस ने इस मामले में एक शख्स को हिरासत में लिया है। पकड़े गए शख्स की पत्नी के कथित तौर पर मृत शख्स के साथ अवैध संबंध थे। मृतकों की पहचान वेदा गांव निवासी जीतू उर्फ ​​जितेंद्र वंजारा (36) और भूमिका वंजारा (14) के रूप में की गई। पुलिस ने कहा कि विस्फोट स्थल पर अमोनियम नाइट्रेट समेत विस्फोटक पदार्थ मिले हैं।

द इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, घटना के बाद सरकार ने इस मामले की जांच के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) की एक टीम को मौके पर भेजा। यह विस्फोट प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा जिले में एक रैली को संबोधित करने के एक दिन बाद हुआ था।

साबरकांठा जिला पुलिस के अनुसार, गुरुवार दोपहर करीब 12.30 बजे एक ऑटोरिक्शा चालक जीतू के घर पहुंचा और एक पार्सल दिया। पार्सल पर 'जितेंद्र वंजारा' नाम का स्टिकर लगा था, जिस पर उसका पता और मोबाइल फोन  नंबर लिखा था।

पुलिस महानिरीक्षक (गांधीनगर रेंज) वीरेंद्रसिंह यादव ने कहा कि जैसे ही जीतू ने उस पार्सल बॉक्स को अपनी बेटियों भूमिका और छाया के साथ-साथ पड़ोस की लड़की शिल्पा (14) की मौजूदगी में खोलना शुरू किया। तभी उस बॉक्स में जोरदार विस्फोट हो गया, जिससे चारों लोग घायल हो गए। पड़ोसियों द्वारा उन्हें वडाली के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में ले जाया गया। जहां जीतू और भूमिका को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया, वहीं छाया और शिल्पा को इलाज के लिए हिम्मतनगर के सिविल अस्पताल में रेफर कर दिया गया।

पुलिस को जांच के दौरान पता चला कि जीतू का पड़ोस के गांव की एक शादीशुदा महिला से प्रेम प्रसंग चल रहा था। महिला के पति ने जीतू को उसकी पत्नी से दूर रहने की चेतावनी भी दी थी। महिला का आरोपी पति एक माइनिंग कंपनी में नौकरी करता है और किसी तरह वह अमोनियम नाइट्रेट हासिल करने में कामयाब रहा। उसने एक म्यूजिक सिस्टम के स्पीकर में अमोनियम नाइट्रेट भरा और उसे डेटोनेटर से जोड़ दिया। जैसे ही जीतू ने पार्सल खोला, स्पीकर फट गया।

पुलिस ने कहा कि महिला के पति और ऑटोरिक्शा चालक को हिरासत में लिया गया है। आरोपी ने जीतू के घर पर पार्सल पहुंचाने के लिए वेदा गांव के ही रहने वाले ऑटो चालक को 200 रुपये दिए थे। एक अधिकारी ने कहा कि हम दोनों आरोपियों के खिलाफ अपराध दर्ज करने की प्रक्रिया में हैं।

गांधीनगर से आई फोरेंसिक टीम और गुजरात आतंकवाद विरोधी दस्ते के प्रमुख सुनील जोशी और साबरकांठा जिले के पुलिस अधीक्षक विजय पटेल ने भी क्राइम स्पॉट का दौरा किया। सिविल अस्पताल के सहायक रेजिडेंट मेडिकल ऑफिसर विपुल जानी ने कहा कि घायल लड़कियों में से एक को वेंटिलेटर पर रखा गया है।