फोटो गैलरी

Hindi News गुजरातपू्र्व AAP विधायक भूपेंद्र भयानी भाजपा में शामिल, BJP में आने की वजह भी बताई

पू्र्व AAP विधायक भूपेंद्र भयानी भाजपा में शामिल, BJP में आने की वजह भी बताई

गुजरात में आम आदमी पार्टी के पूर्व विधायक भूपेंद्र भयानी ने भारतीय जनता पार्टी की दामन थाम लिया है। भयानी ने पिछले साल दिसंबर में विधायक पद से इस्तीफा देने के बाद 'आप' का साथ भी छोड़ दिया था।

पू्र्व AAP विधायक भूपेंद्र भयानी भाजपा में शामिल, BJP में आने की वजह भी बताई
Mohammad Azamपीटीआई,अहमदाबादSat, 03 Feb 2024 10:33 PM
ऐप पर पढ़ें

गुजरात में आम आदमी पार्टी के पूर्व विधायक भूपेंद्र भयानी ने भारतीय जनता पार्टी की दामन थाम लिया है। भयानी ने दिसंबर में विधायक पद से इस्तीफा देने के बाद 'आप' का साथ भी छोड़ दिया था। शनिवार को जूनागढ़ में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान विसावदर सीट से विधायक रह चुके भयानी ने भाजपा का दामना थामा। भाजपा की ओर से मिली जानकारी के अनुसार, भूपेंद्र भयानी और उनके समर्थक भेसन गांव में एक समारोह में राज्य भाजपा अध्यक्ष सीआर पाटिल की उपस्थिति में बीजेपी का दामन थाम लिया है।

भयानी ने बताई बीजेपी में आने की वजह
आम आदमी पार्टी से इस्तीफा देने के बाद भाजपा में शामिल हुए भयानी ने इसकी वजह भी बताई है। पत्रकारों से बात करते हुए, भयानी ने कहा कि यह मेरी घर वापसी है क्योंकि विधायक चुने जाने से पहले मैं भारतीय जनता पार्टी में ही था। उन्होंने कहा कि हमारा देश पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में प्रगति कर रहा है। मैं अपने निर्वाचन क्षेत्र का विकास करने के लिए भाजपा में शामिल हो रहा हूं, न कि वोट या टिकट पाने के लिए।

होना है उपचुनाव
भयानी ने पिछले 2022 में हुए चुनावों में विसावदर सीट से जीत दर्ज की थी। बीते दिसंबर पार्टी और विधानसभा की सदस्यता दोनों से भयानी ने इस्तीफा दे दिया था। अब वहां उपचुनाव होने जा रहा है। ऐसे में भयानी ने विश्वास व्यक्त किया कि उपचुनाव के लिए भाजपा चाहे जिस भी उम्मीदवार को चुने, विसावदर के लोग भगवा पार्टी को भारी अंतर से विजयी बनाएंगे।

भयानी 2022 के विधानसभा चुनावों में चुने गए AAP के पांच विधायकों में से एक थे। यह पहली बार था जब AAP ने गुजरात में विधानसभा चुनावों में सीटें जीती थी। इन चुनावों में भारतीय जनता पार्टी ने प्रचंड जीत दर्ज की थी। भाजपा को गुजरात की 182 में से 156 सीटों पर जीत मिली थी। यह गुजरात विधानसभा चुनावों में भाजपा की अब तक की सबसे बड़ी जीत थी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें